BHOPAL में पकड़ी गई फर्जी गैस ऐजेंसी, ना लाइसेंस ना गुमाश्ता

Tuesday, October 17, 2017

भोपाल। शिकायतों की जांच करने गई खाद्य विभाग की टीम को वहां तो कुछ नहीं मिला लेकिन इलाके में वर्षों से चल रहीं 2 फर्जी गैस ऐजेंसियां जरूर मिल गईं। एक ऐजेंसी कल्पना नगर में चल रही थी वहीं दूसरी ऐजेंसी अवधपुरी में संचालित थी। खाद्य विभाग ने जांच में पाया कि इन फर्जी ऐजेंसियों पर अवैध रूप से रसोई गैस रिफलिंग का काम किया जा रहा था। मौके से घरेलू सिलेण्डर और रिफलिंग के उपकरण भी बरामद किए गए हैं। जांच में टीम को दुकान पर न तो गैस एजेंसी का लायसेंस मिला और न ही दुकान का गुमाश्ता।

कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी संदीप भार्गव ने बताया कि जांच के दौरान एक दो ग्राहक भी मौके पर पहुंचे और उन्होंने एजेंसी संचालक से छोटा सिलेण्डर में गैस भरने की मांग की। खाद्य विभाग की टीम ने ग्राहकों को समझाईश दी कि यह कोई गैस एजेंसी नहीं है। यदि 5 किलो वाला छोटा सिलेण्डर लेना हो तो वे गोविंदपुरा में चल रहे सरकारी सेंटर प्राप्त करें। जांच में दुकान से 6 घरेलू सिलेण्डर, 2 लोकल गैस सिलेण्डर, 5 लोक गैस रेग्यूलेटर, 5 नोजल तथा 5 गैस अंतरण बंसी जब्त की गई। हालांकि जांच के समय दुकानदार अवैध रूप से गैस रिफलिंग करता नहीं पाया गया। खाद्य विभाग ने तत्काल दुकान संचालक पर प्रकरण बनाकर गैस सिलेण्डर सहित पकड़े गए अन्य सामानों को जब्त कर लिया है। 

90 रुपए प्रति किलो बेच रहा था गैस
खाद्य विभाग ने अवधपुरी स्थित सांई गैस अप्लायंसेस पर भी छापा माया। यहां से 3 घरेलू गैस सिलेण्डर, 2 लोकल गैस सिलेण्डर, 3 लोकल गैस रेग्यूलेटर, 3 नोजल तथा एक गैस अंतरण बंसी पकड़ी गई। दुकान संचालक शुभम जाट पहले तो कार्रवाई का विरोध करते हुए खाद्य विभाग के अधिकारियों से कहा कि उसके पास जो सिलेण्डर रखे हैं, वह घर के हैं। खाद्य विभाग ने जब बंसी, नोजल व रेग्यूलेटर रखने संबंधी सवाल किए तो जाट सरेंडर हो गए। इसी बीच एक ग्राहक भी मौके पर छोटा सिलेण्डर लेकर भरवाने आ गया। ग्राहक ने खाद्य विभाग को बताया कि दुकानदार 90 रुपए प्रतिकिलो की दर पर छोटे सिलेण्डर में गैस भरकर देता है। जांच में अवैध रिफलिंग की पुष्टि होने पर खाद्य विभाग ने प्रकरण बना लिया तथा जब्त सामान को समीप की गैस एजेंसी की अभिरक्षा में रखवा दिया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week