भ्रष्ट अफसरों को चप्पल से मारो: मुख्यमंत्री ने कहा

Monday, October 9, 2017

हैदराबाद। भ्रष्ट अफसरों के खिलाफ तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने बड़ा बयान दिया है। राव का कहना है कि भ्रष्टों को सैंडल से पीटा जाना चाहिए। सिंगरेणी कोलिरिज कंपनी लिमिटेड (एससीसीएल) के कर्मचारियों को संबोधित करते हुए केसीआर ने कहा, जो भी आपकी वाजिब छुट्टी या जरूरी फायदे देने में आनाकानी करे, घूस मांगे, उसे सैंडल से खदेड़ दो। 

मालूम हो, सिंगरेणी के कर्मचारी, टीबीजीकेएस नामक कर्मचारी संगठन से जुड़े हैं, जिसे टीआरएस का समर्थन हासिल है। मुख्यमंत्री ने इस यूनियन से अपील की है कि वह भ्रष्टाचार बर्दाश्त न करे।मुख्यमंत्री को शिकायत मिली थी एससीसीएल मेडिकल बोर्ड कर्मचारियों को परेशान कर रहा है। इस पर केसीआर ने कहा, क्या मेडिकल बोर्ड से किसी भी तरह की अनुमति के लिए 6 लाख रुपए की घूस ठीक है? उन्होंने कर्मचारियों को भरोसा दिलाया कि उनसे किया गया हर वाद बिना किसी भेदभाव के पूरा होगा।

के. चंद्रशेखर राव के बारे में
कल्वाकुंतला चंद्रशेखर राव (तेलुगु: కల్వకుంట్ల చంద్రశేఖర రావు), संक्षेप में केसीआर, जन्म 17 फरवरी, 1954) तेलंगाना के वर्तमान मुख्यमंत्री, तेलंगाना राष्ट्र समिति के प्रमुख, तथा अलग तेलंगाना राष्ट्र आंदोलन के प्रमुख कार्यकर्ता हैं। वे तेलंगाना के मेदक जिले के गजवेल विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। उन्होने 02 जून 2014 को तेलंगाना के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। इसके पूर्व वे सिद्धिपेट से विधायक तथा महबूबनगर और करीमनगर से सांसद रह चुके हैं। वे केंद्र में श्रम और नियोजन मंत्री रह चुके हैं।

तेलंगाना राष्ट्र समिति के गठन से पहले वे तेलुगु देशम पार्टी के सदस्य थे। उन्होंने अलग तेलंगाना राज्य के निर्माण की मांग करते हुए तेलगू देशम पार्टी छोड़ी। तेलंगाना राष्ट्र समिति कांग्रेस के साथ 2004 में लोकसभा चुनाव लड़ी थी और उसे 5 सीटें मिली। जून 2009 तक वे संप्रग सरकार में थे, लेकिन अलग तेलंगाना राष्ट्र पर संप्रग के नकारात्मक रवैये के कारण संप्रग से बाहर आ गए।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं