कांग्रेस में राहुल गांधी के खिलाफ खुली बगावत शुरू

Monday, October 9, 2017

नई दिल्ली। इधर मोदी सरकार अपने वरिष्ठ नेताओं यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी के बयानों से परेशान है तो इधर कांग्रेस में भी ऐसा ही कुछ शुरू हो गया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने गांधी परिवार के खिलाफ खुली बगावत शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद पर केवल 2 ही नेता पहुंच सकते हैं, एक मां और दूसरा बेटा। उन्होंने कहा कि औपचारिकता चुनाव की जरूर होती है परंतु तरीके कुछ ऐसे होते हैं कि चुनाव निर्विरोध हो जाएं। 

हिमाचल प्रदेश के सोलन में मणिशंकर अय्यर ने कहा, ”कांग्रेस के अगले अध्यक्ष इन 2 में से कोई एक हो सकते हैं. एक मां, एक बेटा। क्योंकि राहुल ने तो कह दिया खुलेआम कि मैं चुनाव लड़ने को तैयार हूं लेकिन चुनाव लड़ने के लिए विरोधी की जरूरत होती है। अब आप ढूंढिए, कोई मिल गया तो खुशी की बात है, चुनाव हो जाएगा। अब कोई विरेधी मिले ही नहीं, एक ही उम्मीदवार हो तो चुनाव कैसे हो पाएगा।”

मणिशंकर अय्यर का बयान ऐसे वक्त आया है। जब राहुल गांधी की बतौर कांग्रेस अध्यक्ष ताजपोशी की अटकलें लगाई जा रही हैं। राहुल गांधी अपने अमेरिका दौरे पर भी यह बात कह चुके हैं। हाल ही में सचिन पायलट इसका संकेत भी दिया था।

कभी नहीं कहा कि चाय वाला पीएम नहीं बन सकता
मणिशंकर अय्यर ने अपने बयान में न केवल गांधी परिवार पर निशाना साधा बल्कि मोदी पर दिए चाय वाले बयान पर भी अपनी सफाई दी। सफाई देते हुए उन्होंने कहा, ”मैंने कभी यह नहीं कहा कि चाय वाला प्रधानमंत्री नहीं बन सकता, बल्कि मीडिया ने उनके बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया।” मणिशंकर अय्यर ने कहा कि मोदी का परिवार कैंटीन चलाता था, लिहाजा वह भी कभी-कभार वहां बैठते थे।

हालांकि बीजेपी पर हमला बोल उन्होंने पार्टी से किसी भी नजदीकी की अटकलों को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा, ”वो चाहते हैं भारत को एक पाकिस्तान बनाना। यही है ना क्योंकि पाकिस्तान आखिर है क्या वो मुसलमानों का देश है और बीजेपी, मोदी वगैरह क्या चाहते हैं कि ये हिंदुओं का देश बन जाए तो मैं पाकिस्तान का दर्पण इस देश को बनाना नहीं चाहता।”

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं