मैं तो दुर्घटनावश नेता बन गया: मनमोहन सिंह

Friday, October 13, 2017

नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की किताब की लॉन्चिंग के मौके पर भारत के महान अर्थशास़्त्री एवं पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि मेरा राजनीति में आना एक हादसा था। यह दुर्घटना तब हुई जब प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव ने अपनी कैबिनेट का चुनाव किया और उन्हे वित्तमंत्री बना दिया गया। श्री सिंह ने कहा कि वो तो प्रधानमंत्री की रेस में भी नहीं थे। प्रणव मुखर्जी के पास वो सबकुछ था जो एक पीएम में होना चाहिए परंतु सोनिया गांधी ने मुझे चुना। इस फैसले से प्रणब मुखर्जी अपसेट थे लेकिन इसमें मैं क्या कर सकता था, मेरे पास विकल्प नहीं था।

प्रणब मुखर्जी की किताब लॉन्च के मौके पर मनमोहन सिंह ने कहा कि 2004 में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मुझे प्रधानमंत्री पद के लिए चुना। प्रणब मुखर्जी इस पद के लिए ज्यादा योग्य थे, उनके पास शिकायत महसूस करने के लिए हर कारण थे लेकिन वो जानते थे कि मेरे पास कोई विकल्प नहीं था। 

मनमोहन ने प्रणब दा की तारीफ करते हुए कहा कि वो उनके बेहद विशिष्ट सहयोगी थे। दोनों के बीच में कभी किसी विषय को लेकर इश्यू नहीं हुआ। मनमोहन ने कहा कि प्रणब मुखर्जी बॉय च्वॉइस राजनीतिज्ञ हैं और वो हमारे देश के महानतम नेताओं में से एक हैं। पूर्व पीएम ने खुद को एक्सीडेंटल पॉलीटिशियन बताया और कहा कि वो राजनेता तब बने जब पीवी नरसिम्हा राव ने उन्हें वित्त मंत्री बनाया।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं