सिंधिया इंतजार करते रह गए, बावरिया मिलने ही नहीं आए

Wednesday, October 11, 2017

भोपाल। मध्यप्रदेश में कांग्रेस के नए प्रदेश प्रभारी एवं कांग्रेस के महासचिव दीपक बावरिया की पहली भोपाल यात्रा ही विवादित हो गई। गुटबाजी के साथ शुरू हुई बावरिया की यात्रा एक बड़े सनसनीखेज प्रसंग के साथ समाप्त हुई। भोपाल एयरपोर्ट पर सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बाबारिया को मिलने के लिए बुलाया परंतु वो सिंधिया का आमंत्रण ठुकराकर अकेले ही फ्लाइट में जा बैठे। बता दें कि सिंधिया और बावरिया एक ही फ्लाइट से दिल्ली जा रहे थे। अब पूरी कांग्रेस में कानाफूसी शुरु हो गई है। जिस नेता को चेहरा बनाकर चुनाव जीतने की तैयारियां की जा रहीं हैं, उसी को प्रदेश प्रभारी का इस तरह से नजरअंदाज कर दिया जाना काफी कुछ बयां कर रहा है। 

कांग्रेसी सूत्रों का कहना है कि लोकसभा क्षेत्र गुना-अशोकनगर का दौरा कर पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया वापस दिल्ली जा रहे थे। फ्लाइट पकड़ने के लिए वो भोपाल एयरपोर्ट आए। कुछ ही देर बाद यहां पर दीपक बावरिया आ गए। दोनों नेताओं को एक ही फ्लाईट से दिल्ली जाना था। सिंधिया को जब पता चला कि बावरिया एयरपोर्ट पर है, तो उन्होंने अपने दो समर्थकों को भेज कर बावरिया को वेटिंग रूम में बुलाने के लिए संदेश भेजा। संदेश पर बावरिया ने कहा कि टिकट चैक करवाकर आता हूं। कुछ देर बाद जब बावरिया नहीं गए तो फिर से उन्हें संदेशा भेजा गया। दूसरी बार भी बावरिया ने यही जवाब दिया। इसके बाद वे सीधे फ्लाईट में जाकर बैठक गए।

रिपोर्ट होगी तैयार: 
बावरिया की बतौर प्रदेश प्रभारी भोपाल की पहली यात्रा खासी हंगामेदार रही। हंगामे भरी सभी बैठकों के साथ ही विधायकों से हुई वन टू वन चर्चा की विस्तार से रिपोर्ट पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी को देंगे। ऐसा माना जा रहा है कि रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस की गुटबाजी पर ही आधारित रहेगी। वहीं प्रदेश प्रतिनिधियों के नियुक्ति को लेकर भी जो शिकायतें मिली है, वे भी उस रिपोर्ट में शामिल की जा सकती है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week