भावान्तर योजना: 2 मंडी सचिव और 10 व्यापारियों को नोटिस जारी

Wednesday, October 25, 2017

सुरेश गुप्ता/भोपाल। राज्य कृषि विपणन बोर्ड ने भावान्तर भुगतान योजना के क्रियान्वयन में लापरवाही का संज्ञान लेकर दो मंडी सचिवों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। कृषि उपज मंडी भोपाल के सचिव श्री विनय पटेरिया और प्रभारी सचिव कृषि मंडी खिलचीपुर श्री रवीन्द्र कुमार शर्मा को जारी नोटिस का जवाब 8 दिवस में देने को कहा गया है। इसी तरह मंडी समिति खिलचीपुर द्वारा मंडी में किसानों की फसल को मनमाने भाव पर खरीदने वाले व्यापारियों को नोटिस जारी किया गया है। इन व्यापारियों में मेसर्स गोपाल प्रसाद/गोकुल प्रसाद, मेसर्स साहू ट्रेडर्स, मेसर्स रामगोपाल भँवरलाल, मेसर्स पवन कुमार अरविन्द कुमार शामिल है।

इसके अलावा भोपाल की करोंद मंडी समिति द्वारा मेसर्स कुबेर सिंह भगवान दास, मेसर्स जमना ट्रेडर्स, मेसर्स आयुसी ट्रेडर्स, मेसर्स संजय ट्रेडर्स, मेसर्स वैभव ट्रेडर्स और मेसर्स सांवलदास ट्रेडर्स को किसानों की उपज की मनमानी कीमत पर खरीद के संबंध में नोटिस जारी किया गया है।

उल्लेखनीय है कि भावांतर भुगतान योजना में पंजीकृत किसानों द्वारा कृषि उपज मंडियों में किये जा रहे क्रय-विक्रय की जानकारी प्रतिदिन पोर्टल पर दर्ज कर सतत समीक्षा और निगरानी की जा रही है। इसके लिये मंडी बोर्ड में कृषि विशेषज्ञ, मंडी अधिकारियों तथा आईटी विशेषज्ञों की टास्क फोर्स का गठन किया गया है, जो प्रत्येक मंडी के प्रत्येक भाव का भावांतर भुगतान योजना में अपलोड किये जा रहे डाटा की सघन और सूक्ष्म समीक्षा कर रहे हैं। इस कार्य के लिये डाटा निगरानी अधिकारी भी नियुक्त किये गये हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week