टीकमगढ़: सिर्फ 14 किसानों ने सुना शिवराज सिंह का लाइव भाषण

Thursday, October 12, 2017

टीकमगढ़। भोपाल में बैठे सत्ताधारियों को भले ही यह मुगालता हो कि टीकमगढ़ किसान कांड की बात अब खत्म हो गई है परंतु किसानों के दिलों में पुलिस, प्रशासन और भाजपा के प्रति क्या भाव है इसका प्रमाण आज उस समय मिला जब सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ग्राम सभाओं को लाइव संबोधित किया। टीकमगढ़ में हुए सबसे बड़े आयोजन में सिर्फ 14 लोगों ने शिवराज का भाषण सुना। यह भी स्पष्ट नहीं हो पाया है कि वो किसान ही थे या दैनिक वेतनभोगी कर्मचारी। आपको याद दिला दे। कि 3/4 अक्टूबर को खेत बचाओ किसाना बचाओ प्रदर्शन के बाद किसानों को थाने में बंद करके कपड़े उतारे गए और फिर पुलिसवालों ने उन्हे बारी बारी से पीटा। 

हालात यह रहे कि कलेक्टर की ओर से जारी प्रेस रिलीज भी मुरझाया हुआ सा आया। उसमें यह तक दर्ज नहीं था कि ग्राम सभा कहां पर आयोजित की गई। कलेक्टर की ओर से जो फोटो उपलब्ध कराई गई है उसमें मात्र 14 लोग जमीन पर बैठे है, एक नौजवान खड़ा हुआ दिखाई दे रहा है और 6 कर्मचारी किस्म के लोग कुर्सियों पर बैठे दिखाई दे रहे हैं। यह फोटो कलेक्टर की ओर से भेजा गया है अत: स्वभाविक माना जाना चाहिए कि यही टीकमगढ़ का मुख्य कार्यक्रम था। 

कलेक्टर श्री अभिजीत अग्रवाल की ओर से जारी रिलीज में बताया गया है कि जिले की सभी मण्डियों में मुख्यमंत्री भावान्तर भुगतान योजना के प्रचार-प्रसार हेतु बोर्ड, फ्लेक्स, होर्डिंगस लगाये गये हैं। बावजूद इसके किसान शिवराज सिंह की महत्वाकांक्षी भावांतर भुगतान योजना के संदर्भ में भाषण सुनने नहीं आए। इधर सीएम ने भावांतर भुगतान योजना को किसानों के लिए महाबोनस बताया है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week