मोदी सरकार व्यापारियों को क्रिमिनल की तरह देख रही है: VHP तोगड़िया

Saturday, September 16, 2017

सूरत। विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगड़िया इन दिनों नरेंद्र मोदी सरकार के प्रति मुखर हो गए हैं। उन्होंने कहा कि देश में सबसे अधिक रोजगार कृषि और व्यापार से ही मिलते हैं और व्यापार में भी टेक्सटाइल से। ऐसे में व्यापार को सुविधा देने वाले कानून बनाने चाहिए। लेकिन अंग्रेजों की तरह व्यापारियों को क्रिमिनल की तरह देखा जाता है। ऐसा होगा तो रोजगार कहां से आएंगे, विकास कैसे होगा। तोगड़िया लक्ष्मीपति बालाजी ग्रुप के एक निजी कार्यक्रम में आए थे। 

तोगड़िया ने कहा कि चीन व्यापार को बढ़ावा देने के लिए इतना इंसेंटिव देता है कि पूरे विश्व पर छा गया। हमारे यहां उल्टा हतोत्साहित करने की स्थितियां हैं। ऐसी कि व्यापारियों का उत्साह और रिस्क लेने की इच्छा दोनों खत्म हो गई हैं। बड़ा कमाने वाले को बड़ा गुनहगार मानेंगे तो ऐसा ही होगा। व्यापारियों का पैसा नहीं परिश्रम देखा जाता है। दरअसल देश जॉबलेस ग्रोथ की ओर बढ़ रहा है। जीडीपी बढ़ रही है, जॉब घट रहे हैं। जब फैक्ट्री नहीं चलाएंगे तो जॉब कहां से आएंगे। इससे पूर्व लक्ष्मीपति ग्रुप के प्रमुख गोविंद सरावगी और डायरेक्टर संजय सरावगी ने डॉ. तोगड़िया को साफा पहनाकर और स्मृतिचिन्ह देकर स्वागत किया।

केन्द्र सरकार को किसानों का कर्ज माफ करना चाहिए
डॉ. प्रवीण तोगड़िया ने गुजरात किसान समाज के प्रतिनिधियों से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि किसान कर्ज के बोझ तले डूबे हुए हैं। सरकार को किसानों की समस्याओं को सुनना चाहिए। उनकी समस्याएं जेन्यून हैं। जैसे कि पानी की समस्या, अनाज के उचित दाम की समस्या, पैदावार कम होने की चिंता इत्यादि मामलों में सरकार को हस्तक्षेप कर किसानों के हित में फैसला लेना चाहिए। तोगड़िया ने कहा कि देश की 70 फीसदी आबादी कृषि पर निर्भर है। ऐसे में किसानों की समस्याओं का समाधान कर सरकार को कृषि व किसानों को बचाने की दिशा में कार्य करना चाहिए।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week