VANASTHALI SCHOOL: प्रिंसिपल के डर से 5th के स्टूडेंट ने अग्निस्नान कर लिया

Saturday, September 9, 2017

भोपाल। मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा शहर में राजपाल चौक स्थित VANASTHALI PUBLIC SCHOOL CHHINDWARA में टीचर और प्रिंसिपल की डांट व मारपीट डिप्रेशन में आए 5th के स्टूडेंट ने घर आकर खुद पर केरोसिन डाल आग लगा ली। बुरी तरह झुलसे बच्चे को पड़ोसियों ने डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल मैं भर्ती कराया। उसे 50 फीसदी बर्न्स हैं, हॉस्पिटल में उसका इलाज किया जा रहा है। कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। छिंदवाड़ा के वनस्थली पब्लिक स्कूल में 5th के स्टूडेंट 12 साल के आयुष तिवारी की क्लास टीचर ने शरारत करने पर सजा के तौर पर पिटाई की और प्रिंसिपल से शिकायत भी कर दी। प्रिंसिपल ने आयुष को चेंबर में बुलाया और डांट फटकार के बाद कहा गया कि उसकी शिकायत पुलिस से की जाएगी, इसलिए कल वह पेरेंट्स को साथ लेकर आए, और स्कूल मैनेजमेंट पुलिस को बुलाएगा।

साथियों के सामने पिटाई और पुलिस को शिकायत की धमकी देकर डराने से आयुष डिप्रेसन में आ गया। स्कूल से घर लौटते ही उसने कैरोसिन उड़ेलकर खुद को आग लगा ली। आयुष के पिता आलोक तिवारी घर पर नहीं थे, मां ने किसी तरह पड़ोसियों की मदद से 50 प्रतिशत झुलसे बेटे को डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल पहुंचाया।

शरारत की थी तो हमसे शिकायत करते
आयुष के पिता आलोक ने मामले की शिकायत पुलिस को की है। आलोक का आरोप है कि उनके बेटे की आत्मदाह की कोशिश के लिए उसकी क्लास टीचर और प्रिंसिपल की बच्चों के प्रति संवदनहीनता और गैर जिम्मेदाराना व्यवहार दोषी है। आलोक के मुताबिक बच्चे की शरारत पर टीचर और प्रिंसिपल की सजा ही काफी थी, पेरेंट्स की शिकायत भी की जा सकती थी, लेकिन मासूम बच्चे को शरारत के लिए पुलिस का डर दिखाना बिल्कुल गलत है।

जिला शिक्षा अधिकारी: मामला गंभीर है जांच कराएंगे
जिला शिक्षा अधिकारी आरएस बघेल ने बताया कि मामला गंभीर है, उन्हें भी शिकायत मिली है, इसके लिए कौन जिम्मेदार है, इसकी जाँच कराई जाएगी, और दोषी पाए जाने पर टीचर व
प्रिंसिंपल के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। छिंदवाड़ा पुलिस कोतवाली के टीआई सुमेर सिंह जगेत ने बताया की परिजनों की शिकायत पर मामले की जाँच शुरू कर दी गई है। रिजल्ट के बाद कार्यवाही की जाएगी

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week