किम जोंग उन: SCHOOL छात्राओं को यौन गुलाम बनाता है तानाशाह

Thursday, September 21, 2017

उत्तर कोरियाई तानाशाह के आक्रामक रवैया किसी से छिपी नहीं है। किम जोंग उन पर कब पागलपन सवार हो जाए और वह विनाशकारी कदम उठा ले इसे लेकर दुनिया के सभी देश चिंतित हैं। इसी बीच किम जोंग का एक और चेहरा सामने आया है। मीडिया खबरों के मुताबिक, वह सिर्फ युद्ध के लिए आमादा नहीं है, बल्कि सेक्स का भी प्यासा है। उत्तर कोरिया से भागकर दक्षिण कोरिया आईं 26 ही येओं लिम (काल्पनिक नाम) ने यह खुलासा किया है।

उन्होंने बताया कि उनके सामने कैसे विमान भेदी बंदूकों से 11 संगीतकारों के ‘टुकड़े को उड़ा दिया गया’ और उनकी सहपाठी को किम जोंग का यौन गुलाम बनाया गया। इस खुलासे के बाद से ही के जान को खतरा है। इसके लिए उन्हें फांसी पर लटकाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि संगीतकारों को पोर्न बनाने के आरोप में मौत के घाट उतार दिया गया।

ही के पिता वुई येओं लिम उत्तर कोरियाई शासन के आंतरिक सदस्य और सेना में कर्नल थे। 2015 में वुई की मौत के बाद ही और परिवार के सदस्यों ने देश छोड़ने का फैसला किया। मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, ही ने बताया कि पोर्न मूवी बनाने के आरोप में 11 संगीतकारों को फुटबॉल स्टेडियम में सरेआम गोली मार दी गई। संगीतकारों को बाहर लाकर लटका दिया गया। उनका गला दबा था। इसलिए वे न तो शोर मचा सकतेे और न ही दया की भीख मांग सकते थे। उन्होंने बताया कि यह बहुत ही भयानक घटना थी, जो तीन दिन मुझे परेशान करती रही।

एक टाइम का लंच 87 हजार रुपये का
ही ने बताया कि किम जोंग उन का एक टाइम का लंच करीब 87 हजार रुपये का आता था। वहीं कुछ नागरिकों को एक टाइम बिना खाए बिताना पड़ता है, जबकि कई परिवार ऐसे हैं जो घास खाकर दिन काटने के लिए मजबूर हैं। 

स्कूली लड़कियों को बनाता है यौन गुलाम
किम जोंग शादीशुदा है। उसके तीन बच्चे भी हैं। ही ने कहा कि इसके बावजूद वह यौन गुलाम बनाने के लिए स्कूल से लड़कियों को मंगवाता है। उन्होंने बताया, ‘अधिकारी स्कूल में आकर छात्राओं को किम के घर में काम कराने के नाम पर ले जाते हैं। इसके बाद उन्हें यौन गुलामी सिखाया जाता है। किशोरियों को किम के साथ सोना पड़ता है। इस दौरान वे कोई गलती नहीं करती, क्योंकि उन्हें गायब किया सकता है। बाद में लड़कियों को छोड़ दिया जाता है या उच्च अधिकारियों से उनकी शादी करा दी जाती है। उन्होंने बताया कि किम जोंग तानाशाह बनने के बाद से अब तक 2.5 करोड़ लोगों को बंदी बना चुका है।

हर लड़की में 13 नंबर का खौफ
उत्तर कोरिया की हर लड़की में 13 नंबर का खौफ है। पिछले साल एक पीड़ित महिला ने खुलासा किया था कि सनकी तानाशाह के लिए एक महिला दल बनाया गया है। इसमें 13 साल की लड़कियों को जबरन भर्ती किया जाता है। ये लड़कियों 25 साल की उम्र तक किम जोंग की गुलाम बनकर रहती हैं। किम को खुश करने के लिए उसके ऐशगाह में दो हजार लड़कियों को बंधक बनाकर रखा जाता है। ये लड़कियां लंबी, खूबसूरत और सुरीली आवाज वाली होती हैं। उन्हें 15 साल तक यहां रखा जाता है। इन्हें छह महीने की यौन गुलामी का प्रशिक्षण भी दिया जाता है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं