कर्जमाफी: PM मोदी ने ऐलान किया था, CM शिवराज बोले ये बात ही गलत है

Monday, September 18, 2017

भोपाल। किसानों की कर्जमाफी अभी भी मुद्दा बना हुआ है। यहां भाजपा के 2 चेहरे सामने आ रहे हैं। उत्तरप्रदेश के विधानसभा चुनावों के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों को कर्जमाफी का ऐलान किया था। योगी आदित्यनाथ सरकार ने इसका पालन भी किया परंतु मध्यप्रदेश में सीएम शिवराज सिंह का कहना है कि यह बात ही गलत है। यह किसान, जनता और बैंक तीनों के हित में नहीं है। इसे रोकना होगा। 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सोमवार को राजधानी भोपाल में राज्य स्तरीय बैंकर्स समिति की बैठक में शामिल होने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने किसानों की आय दोगुनी करने के मुद्दे पर जब बैंकर्स के बीच अपनी बात रखी तो कर्जमाफी के मुद्दे पर भी बोले। चौहान की मानें तो मध्य प्रदेश का किसान कर्जमाफी नहीं बल्कि अपनी फसल का उचित मूल्य चाहता है। किसानों का ही हवाला देते हुए उन्होंने ये भी कहा है कि कर्जमाफी जैसे प्रयोग न तो किसानों न जनता और न ही बैंकों के हितों में हैं लिहाजा इसे रोकना होगा। 

बैठक में खासतौर से किसानों की आय दोगुनी करने और किसानों को अधिकतम ऋण दिए जाने को लेकर मुख्यमंत्री ने बैंकों को निर्देश दिए हैं। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने बैंकों की ओर से स्वरोजगार योजना के लिए ऋण देने में आनाकानी किए जाने को लेकर नाराजगी भी जाहिर की।सीएम ने बैंकों से कहा कि बैंक ऋण देने में उदारता बरतें। मुख्यमंत्री ने मनरेगा मजदूरी और किसानों से जुड़े हुए भुगतान में देरी न किए जाने के लिए बैंकों से कहा है। बैठक के दौरान ही जानकारी दी गई कि आने वाले दिनों में बैंकों से संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए बैंक कॉरेसपॉन्डेंट और बैंक सखी की मदद ली जाएगी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं


Popular News This Week