वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं MLA महेन्द्र सिंह कालूखेड़ा नहीं रहे

Monday, September 11, 2017

भोपाल। मध्यप्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री महेन्द्र सिह कालूखेड़ा का मेदांता अस्पताल में निधन हो गया। बुधवार को उनका अंतिम संस्‍कार जावरा के पास कालूखेड़ा गांव में किया जाएगा। कालूखेड़ा गांव उनका मूल निवास है। अशोकनगर जिले की मुंगावली विधानसभा सीट से विधायक कालूखेड़ा पिछले कई दिनों से अस्‍वस्‍थ थे। उन्‍हें उपचार के लिए गुड़गांव के अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। पिछले दिनों मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने भी मेदांता अस्पताल जाकर उनके हालचाल जाने थे।

प्रदेश की राजनीति में कालूखेड़ा चर्चित नाम था। वे विधानसभा में लोक लेखा समिति के सभापति थे। पिछले दिनों हृदयाघात के बाद उन्‍हें भोपाल के हमीदिया अस्‍पताल में भी भर्ती कराया गया था। श्री कालूखेड़ा रतलाम के जावरा से तीन बार और दो बार मुंगावली से विधायक रहे। वे गुना संसदीय सीट से सांसद भी रहे। दिग्विजय सिंह के मंत्रिमंडल में वे कृषि, सहकारिता और स्‍कूल शिक्षा विभाग के मंत्री भी रहे।

कर्मठ व निष्ठावान कार्यशैली ने ही कालूखेड़ा को कई महत्वपूर्ण पदों तक पहुंचाया। सिंधिया घराने से उनकी शुरू से घनष्ठिता रही। राजनीतिक, सामाजिक, सहकारिता व खेल से जुड़े कई पदों पर उन्होंने अहम भूमिका निभाई। नेशनल को-ऑपरेटिव डेयरी फेडरेशन ऑफ इंडिया, नेशनल कौंसिल ऑफ स्टेट एग्रीकल्चर मार्केटिंग बोर्ड, मप्र हाउसिंग बोर्ड, मप्र मिल्क को-ऑपरेटिव फेडरेशन, मप्र सीड्स एंड फॉर्म डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन सहित कई राष्ट्रीय संस्थाओं के चेयरमैन और मप्र क्रिकेट एसोसिएशन के वाइस प्रेसीडेंट रहे।

स्‍वर्गीय माधवराव सिंधिया के खास सहयोगी रहते हुए वे मध्‍यप्रदेश क्रिकेट संगठन की गतिविधियों में भी सक्रिय रहे। कांग्रेस नेताओं ने उनके निधन को कांग्रेस के लिए बड़ी राजनीतिक क्षति बताया है। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी उनके निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है।

कालूखेड़ाजी का निधन प्रदेश की राजनीति के लिए अपूर्णीय क्षति: शिवराज सिंह चौहान
भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री नंदकुमारसिंह चौहान ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री श्री महेन्द्रसिंह कालूखेड़ा के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि श्री कालूखेड़ा ने अपने दल के लिए पूरी निष्ठा और ईमानदारी से काम किया। वे मध्यप्रदेश की राजनीति में सदैव सफल मंत्री और विधायक के रूप में जाने गए। उनके निधन से मध्यप्रदेश की राजनीति को गहरा धक्का लगा है। यह प्रदेश के लिए अपूर्णीय क्षति है। श्री चौहान ने श्री कालूखेड़ा के निधन पर ईश्वर से प्रार्थना की है कि वह उनकी आत्मा को शांति दे, तथा कालूखेड़ा परिवार को दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

पूर्ति की कल्पना नहीं की जा सकती: कमलनाथ
इस अवसर पर छिंदवाड़ा सांसद कमलनाथ ने कहा मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता महेन्द्र सिंह कालूखेड़ा जी का निधन का समाचार स्तब्ध करने वाला है। एक जीवट व संघर्षशील व्यक्तित्व के धनी कालूखेड़ा जी ने सदैव राजनीति को सेवा का माध्यम बना कर, जनहित के कई उल्लेखनीय कार्य किये है। निश्चित तौर पर उनका निधन एक ऐसी क्षति है, जिसकी पूर्ति की कल्पना नहीं की जा सकती है। ईश्वर उनकी दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे व परिजनो को यह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week