GOLD: एक दिन में 990 रुपए का उछाल, नए दाम 31,350 रुपये

Saturday, September 9, 2017

नई दिल्ली। बाजार में गोल्ड ने शुक्रवार को तो महाराणा प्रताप सी तेजी का प्रदर्शन किया। बाजार बंद होने तक गोल्ड 990 रुपए की तेजी पकड़ चुका था। बंद होते बाजार में गोल्ड के नाम 31,350 रुपये प्रति 10 ग्राम पहुंच गए थे। यह सोने के दाम का 9 नवंबर 2016 के बाद का उच्चतम स्तर है। वैश्विक स्तर पर सोने की कीमतों में आई जोरदार तेजी का घरेलू बाजार पर भी असर पड़ा। औद्योगिक इकाइयों की ओर से मांग बढ़ने से चांदी भी 100 रुपये चढ़कर 42,000 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई। विश्लेषकों के अनुसार अमेरिका के रोजगार आंकड़ों से निवेशकों की निराशा से दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर में भारी गिरावट आई है, जिससे सोने की कीमतों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बल मिला है। 

इसके अलावा उत्तर कोरिया की समस्या अब भी बाजार पर हावी है जिससे निवेशक सुरक्षित निवेश का रुख कर रहे हैं। विश्लेषकों के अनुसार सोने पर स्थानीय जेवराती मांग की अपेक्षा वैश्विक तेजी अधिक हावी है। हालांकि, त्योहारी मौसम शुरू होने से पहले सर्राफा कारोबारियों की मांग में हल्की तेजी आई है। दिल्ली में सोना 99.9 फीसदी और 99.5 फीसदी शुद्ध 990 रुपये की तेजी के साथ क्रमश: 31,350 रुपये और 31,200 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर पहुंच गया। हालांकि, आठ ग्राम वाली गिन्नी 24,600 रुपये पर स्थिर बंद हुई।

चांदी तैयार 100 रुपये की बढ़त के साथ 42,000 रुपये  प्रति किलो पर पहुंच गई। भविष्य में कीमतों में  वृद्धि की संभावना से चांदी साप्ताहिक डिलीवरी भी 580 रुपये चमककर 41,770 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई। चांदी सिक्का 74,000:75,000 रुपये प्रति सैकड़ा पर स्थिर रहा। 
विदेशी बाजारों में लंदन में सोना हाजिर 5.60 डॉलर यानी 0.3 फीसदी चढ़कर 1,353.10 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। दिसंबर का अमेरिका सोना वायदा भी 0.6 फीसदी यानी 8.2 डॉलर की छलांग लगाकर 1,358.50 डॉलर प्रति औंस दर्ज किया गया। चांदी हाजिर भी 0.06 डॉलर की बढ़त के साथ 18.12 डॉलर प्रति औंस दर्ज की गई।

बयान
वैश्विक कीमतों के साथ सटोरिया गतिविधि से भी घरेलू बाजार में सोने में इतनी बड़ी तेजी आई क्योंकि श्राद्ध का मौसम होने की वजह से घरेलू बाजार में मांग कम है। अगर उत्तर कोरिया विवाद जारी रहता है तो सोना 34 से 45 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम तक जा सकता है। :-योगेश सिंघल, महासचिव, दिल्ली ज्वेलर्स एंड बुलियन एसोशिसन

क्या करें उपभोक्ता
सोने में यह तेजी अस्थाई है और कीमतों में आगे उतार-चढ़ाव आ सकता है
शादी-विवाद के मद्देनजर भी खरीदारी करनी हो तो तीन-चार बार में सौदा करें
निवेश के लिए अभी सोना खरीदना फायदे का सौदा नहीं

दाम पर नजर
11 माह का उच्चतम स्तर है घरेलू बाजार में सोने का 
900 रुपये बढ़कर 31,750 रुपये पहुंच गया सोना। 
9 नवंबर 2016 को 710 रुपये की तेजी आई थी 
9 फरवरी 2016 को 100 रुपये बढ़कर 42,000 रुपये प्रति किलो पहुंच गई चांदी

क्यों बढ़ी कीमत
अमेरिका के कमजोर रोजगार आंकड़ों से वहां आर्थिक सुस्ती के संकेत
दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर जनवरी 2015 के बाद के निचले स्तर पर आ गया है।
अलावा उत्तर कोरिया की समस्या अब भी बाजार पर हावी है जिससे निवेशक सुरक्षित निवेश का रूख कर रहे हैं
घरेलू बाजार में सटोरिया कृत्रिम मांग पैदा कर कीमतों में तेजी को और ज्यादा बल दे रहे हैं
सोना सबसे सुरक्षित निवेश
जब दुनिया की अर्थव्यवस्था में उठा-पटक तेजी होती है और सुस्ती की आशंका बढ़ जाती है तो निवेशक सोने में निवेश को तरजी देते हैं। इसे सभी निवेश विकल्पों में सबसे सुरक्षित निवेश माना जाता है। यही वजह है जब अर्थव्यवस्था में ऊहापोह बढ़ती है तो सोने के दाम चढ़ जाते हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week