GF ने BF की हत्या की थी: लिव इन रिलेशन की लड़ाई में दोष साबित

Wednesday, September 6, 2017

भोपाल। कोर्ट ने उस लड़की को उम्र कैद की सजा सुना दी है जो सुसाइड करने के लिए कुएं में कूद गई थी। पुलिस उसे बचाकर बाहर निकालकर लाई थी। दरअसल, योगेश्वरी ने अपने बॉयफ्रेंड विभाष की हत्या कर दी थी क्योंकि उसे शक था कि विभाष के संबंध किसी दूसरी युवती से भी हैं। हत्या करने के बाद आत्महत्या करने के लिए योगेश्वरी कुएं में कूदी परंतु पुलिस ने उसे बचा लिया और गिरफ्तार कर लिया। कोर्ट ने हत्या के मामले में योगेश्वरी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। मंगलवार को न्यायाधीश अरविंद कुमार गोयल ने यह फैसला सुनाया।

मूलतः: बैतूल निवासी विभाष कानेरिया साकेत नगर में रहकर कंस्ट्रक्शन का काम करता था। 5 जून 2016 को रविवार सुबह 6.30 बजे चचेरी बुआ की लड़की योगेश्वरी उर्फ मोंटी बराह ने सो रहे विभाष के सीने में चाकू मारकर हत्या कर दी थी। वारदात के समय विभाष की बहन आभा भी घर में ही थी। विभाष की चीख सुनकर वह उसके कमरे की तरफ भागी तो देखा योगेश्वरी खून से सना चाकू लेकर खड़ी थी। योगेश्वरी जब वहां से भागी तो आभा ने उसे पकड़ने की कोशिश की। गंभीर रूप से घायल विभाष को हमीदिया अस्पताल में डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

इधर योगेश्वरी ने खुदकुशी करने के लिए पिपलानी के गांधी मार्केट स्थित कुएं में छलांग लगा दी थी। योगेश्वरी ने बीयू से क्लिनिकल साइकोलॉजी में एमए किया था। विभाष का योगेश्वरी से 8 साल से प्रेम संबंध था। दोनों 2007 से 2011 तक साथ रहते थे। विभाष के परिजनों की आपत्ति के बाद वह अलग रहने लगी लेकिन उसने मिलना जुलना बंद नहीं किया। घटना के तीन-चार महीने पहले योगेश्वरी को पता चला कि विभाष के संबंध किसी और लड़की से भी हैं।

साथ रखती थी चाकू
छेड़छाड़ का शिकार हुई योगेश्वरी आत्मरक्षा के लिए चाकू साथ रखती थी। उसने पुलिस को बताया कि चाकू से पहले वह कांच का टुकड़ा रखती थी। उसके साथ दो-तीन बार छेड़छाड़ हो चुकी थी। उसकी शिकायत पर एमपी नगर थाने में एक युवक के खिलाफ मामला भी दर्ज हुआ था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week