CM HELPLINE ने हेल्प नहीं की, दैवेभो कर्मचारी ने सुसाइड कर लिया

Tuesday, September 26, 2017

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के विधानसभा क्षेत्र बुधनी में नगर पंचायत के दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी ने इसलिए सुसाइड कर लिया क्योंकि उसे सीएम हेल्पलाइन से हेल्प नहीं मिली थी। उसने शिकायत की थी कि नगर पंचायत के 2 कर्मचारी उसे नियमित करने के एवज में मोटी रिश्वत मांग रहे हैं। उसे बताया गया है कि नियमितीकरण के लिए बनाई गई लिस्ट में उसका नाम नहीं है। कर्मचारी का कहना था कि उसके पास रिश्वत में देने के लिए उतने पैसे नहीं हैं, जितने मांगे जा रहे हैं। वो चाहता था कि सीएम हेल्पलाइन से उसे मदद मिले परंतु ऐसा नहीं हुआ। 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के विधानसभा क्षेत्र बुदनी के नगर पंचायत के दैनिक कर्मचारी अनिल कैथवास ने सुसाइड किया। मृतक के पास एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है जिसमे परमानेंट नियुक्ति को लेकर अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। बुधनी नगर परिषद के कार्तिकेय पार्क में कार्यरत अनिल को गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल लाया गया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

मृतक के पास मिले सुसाइड नोट में नगर पंचायत में पदस्थ दो कर्मचारियों वीरेंद्र सेंगर और राजेंद्र यादव पर प्रताड़ना के आरोप लगे हैं। मृतक के परिजनों के मुताबिक अनिल पिछले कुछ दिनों से नगर परिषद द्वारा नियमित नहीं किए जाने की प्रक्रिया से परेशान थे। नियमित कर्मचारियों की प्रस्तावित सूची में अपना नाम नहीं होने से अनिल काफी परेशान थे। परिजनों के मुताबिक अनिल के बताए अनुसार नियमित कर्मचारियों की सूची में नाम जोड़ने के लिए विभाग के जिम्मेदार लोगों द्वारा रिश्वत मांगी जा रही थी।

अनिल के पास रिश्वत देने के लिए रकम नहीं होने के कारण वह परेशान थे। परिजनों के मुताबिक मृतक द्वारा सीएम हेल्पलाइन में भी इस बात की शिकायत की गई थी, लेकिन कोई हल नहीं निकला। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week