अटलजी BJP का चेहरा हुआ करते थे, अब मताधिकार निलंबित

Thursday, September 28, 2017

लखनऊ। इस बार उत्तर प्रदेश में होने वाले नगर निकाय चुनावों में पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी वोटर नहीं होंगे। कई साल से लखनऊ नहीं आने की वजह से उनका नाम वोटर लिस्ट से हटाया गया है। मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान वाजपेयी का नाम हटाया गया। अटल लखनऊ के बाबू बनारसी दास वार्ड से वोटर थे। अटलजी की लखनऊ के साथ बड़ा गहरा रिश्ता है। वो यहां पत्रकार बनने आए थे और प्रधानमंत्री बनकर दिल्ली गए। इन दिनों अटलजी काफी बीमार हैं एवं स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। 

अटल बिहारी वाजपेयी ने आखिरी बार 2000 में नगर निगम चुनाव में वोट डाला था। जबकि आखिरी बार 2004 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने यहां से वोट डाला था। नगर निगम जोन-एक के जोनल अधिकारी अशोक कुमार सिंह ने बताया कि वाजपेयी नगर निगम में दिए अपने पते के मकान में कई वर्षों से नहीं रह रहे हैं। इस कारण मतदाता पुनरीक्षण अभियान के तहत उनका नाम वोटर लिस्ट से हटा दिया गया है।

वोटर लिस्ट में जो पता दर्ज था वह इस समय किसान संघ का कार्यालय है। वोटर लिस्ट के मुताबिक अटल का लखनऊ में ठिकाना बासमंडी स्थित मकान नंबर 92/98-1 था। उनका वोटर क्रमांक 1054 था। जोनल अफसर अशोक सिंह के मुताबिक वाजपेयी 10 साल से शहर में नहीं आए हैं। गौरतलब है कि 2004 लोकसभा चुनाव के बाद से ही अटल सक्रिय राजनीति से संन्यास ले चुके हैं। फिलहाल वे राजधानी दिल्ली में रहते हैं। स्वास्थ्य ठीक न होने की वजह से अब वे ज्यादा किसी से मुलाकात भी नहीं करते।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week