प्रेमिका के लिए इस खिलाड़ी ने मारी थी अपने वतन पाकिस्तान को लात

Sunday, September 10, 2017

राजू जांगिड़। दक्षिण अफ्रीका के लेग स्पिनर इमरान ताहिर इस दिनों खबरों में हैं। उनका कहना है कि बर्मिघंम में पाकिस्तान काउंसलेट ने उसने और उकने परिवार को वीजा देने की बजाय वहां से न केवल भगा दिया बल्कि बहुत अपमान भी किया। CFD सुमाया के प्रेम में पागल हो कर पाकिस्तान को ठुकरा दिया था ताहिर ने। पाकिस्तान और इमरान ताहिर के बीच रिश्ता एक फिल्मी कहानी जैसा है। असल में ताहिर पाकिस्तान के लाहौर शहर में पैदा हुआ और वहीं पला बढ़ा। 

पाकिस्तान ने ही उसे क्रिकेट से रु-ब-रु करवाया लेकिन एकाएक ताहिर ने अपनी प्रेमिका के लिए अपने मुल्क को लात मार दी और दक्षिण अफ्रीका का नागरिक बन गया। ताहिर की पूरी कहानी काफी रोचक है। ताहिर पाकिस्तान की अंडर-19 टीम की ओर से 1998 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलने गए थे। वहां टूर्नामेंट के दौरान उनकी मुलाकात भारतीय मूल की साउथ अफ्रीकी नागरिक सुमाया दिलदार से हुई।

CSA वह पलही नजर का प्यार था
ताहिर कई बार बता चुके हैं कि वह पहली नजर का प्यार था। पहली मुलाकात जिदंगी भर साथ रहने की तम्मना जगाने के लिए काफी साबित हुई और 2006 में ताहिर अपनी जिदंगी सुमाया के लिए दक्षिण अफ्रीका पहुंचा और फिर कभी वापिस पाकिस्तान न जाने का फैसला किया।

नए मुल्क की नागरिकता एक संघर्ष थी क्योंकि वहां के कानून बाहर के लोगों को इतनी आसानी से स्वीकार नहीं करते लेकिन यहां पर ताहिर का पाकिस्तान के लिए खेला क्रिकेट ही काम आया और उन्हें पहले लोकल लीग में खेलने का मौका दिया गया। वहां कामयाब होने के बाद उनके लिए राष्ट्रीय टीम का रास्ता खुला।

इस समय ताहिर दक्षिण अफ्रीका की तीनों फोरमेट में सबसे अहम कड़ी हैं और ताहिर ने अपने इस नए मुल्क के उसे अपनाने के फैसले के साथ न्याय भी किया है। यह भी रोचक है कि कई साल बाद अपने पिता के देश जाने के लिए वीजा हासिल करने की कोशिश में वह विवादों में हैं।

CSA अब ताहिर दक्षिण अफ्रीकी टीम का अहम हिस्सा है। असल में 12,13 और 15 सितंबर को लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में विश्व एकादश और पाकिस्तान टीम के बीच तीन टी-20 मैचों का इंडिपेडेंस कप होना है। ताहिर विश्व एकादश के 14 स्टार खिलाड़ियों में शामिल हैं। इसी मैच के लिए वह वीजा हासिल करने के लिए वीजा अप्लाई किया था।

ताहिर ने ट्वीट करके आरोप लगाया कि उन्हें काफी बेज्जत किया गया और उन्हें व उनकी पत्नी, बेटे और सास को बाहर निकल जाने के लिए कहा गया लेकिन काउंसलेट ने दावा किया कि काम का समय खत्म होने के बावजूद ताहिर को वीजा मुहैया करवाया गया। फिलहाल ताहिर एक-दो दिन में पाकिस्तान पहुंच जाएंगे।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट फिर से बहाल करने के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने इन तीन मैचों की सीरीज का इंतजाम किया। 2009 में श्रीलंका की टीम बस पर आतंकी हमले के बाद से बाकी मुल्क पाकिस्तान में खेलने को लेकर कतरा रहे हैं। आईसीसी ने यह मैच करवाए हैं ताकि बाकी मुल्कों के खिलाड़ियों में भी पाकिस्तान में खेलने को लेकर आत्मविश्वास बन सके।

CSA काफी नाम कमाया है ताहिर ने
विश्व एकादश की टीम की कप्तानी दक्षिण अफ्रीका के फेफ डुपलेसिस को सौंपी गई है। डुपलेसिस की कप्तानी में उनकी अपनी टीम के पांच, आस्ट्रेलिया के तीन, वेस्टइंडीज के दो और बांगलादेश,न्यूजीलैंड, इंग्लैंड और श्रीलंका का एक खिलाड़ी खेलेगें।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week