कछुआ छाप अगरबत्ती से महिला की मौत

Thursday, September 7, 2017

भोपाल। मच्छर भगाने के लिए लगाई गई कछुआ छाप अगरबत्ती से कपड़ों में लगी आग से झुलसकर एक 90 साल की महिला की मौत हो गई। घटना पिपलानी इलाके में हुई। पिपलानी पुलिस के मुताबिक 90 वर्षीय नब्बी बाई उर्फ नर्मदी बाई बाल विहार कॉलोनी में परिवार के साथ रहती थी। बुजुर्ग होने के कारण वह नीचे के कमरे में अकेले रहती थी। उसके बेटा-बहू ऊपरी मंजिल पर रहते थे। 

सोमवार रात को नब्बी बाई को दवा देने के साथ ही परिवार के लोगों ने मच्छरों को भगाने के लिए कमरे में कछुआ छाप अगरबत्ती जला दी थी। रात में अगरबत्ती कपड़ों पर गिर गई। इससे आग भड़क उठी। कमरे से धुआं उठने पर परिजनों की नींद खुली। गंभीर रूप से झुलस गई नब्बी बाई को एम्बुलेंस से हमीदिया अस्पताल भेजा गया। जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।

आर्मी जवान की संदिग्ध मौत 
भोपाल। तमिलनाडु एक्सप्रेस में सफर कर रहे सेना के एक जवान की अचानक मौत हो गई। बुधवार रात पौने 9 बजे भोपाल स्टेशन पर जवान का शव उतारा गया। जवान की मौत कैसे हुई, इसकी जानकारी नहीं है। खबर मिलते ही सेना के अधिकारी स्टेशन पहुंच गए और मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच शुरू कर दी है।

स्टेशन प्रबंधक प्रदीप सिंह के मुताबिक तमिलनाडु एक्सप्रेस रात पौने 9 बजे प्लेटफार्म-2 पर आई। पहले से कंट्रोल का मैसेज था कि ट्रेन के एस-1 बोगी की बर्थ 43 पर सफर कर रहे तनिक सोनालू (36) की मौत हो गई। ट्रेन के पहुंचने पर शव को उतारा गया। जवान के पास से जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक वह पठानकोठ बेस यूनिट नंबर-8 का जवान है। जवान के पास से चेन्नई से दिल्ली का टिकट मिला। बताया जा रहा है कि जवान की तबीयत इटारसी पहुंचने से पहले ही बिगड़ गई थी। जिसे इटारसी में रेलवे के अधिकारी और डॉक्टरों ने देखा। जवान ट्रेन से भोपाल आ रहा था लेकिन भोपाल पहुंचने से पहले उसकी मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक जवान की पीठ और पेट में दर्द की शिकायत सामने आई है। लेकिन बताया जा रहा है कि सेना के अधिकारी इसे असली वजह नहीं मान रहे हैं। गुरुवार को शव का पोस्टमार्टम होने के बात स्थिति साफ होगी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week