आसाराम के गुरूकुल में भी हुई है 4 बच्चों की संदिग्ध मौत

Sunday, September 17, 2017

छिंदवाड़ा। गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या के बाद स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा पर सवाल खड़े हो गए हैं। ऐसा ही वाकया रेप के आरोपी आसाराम बापू के छिंदवाड़ा स्थित गुरुकुल में भी हुआ था। यहां 3 दिन के भीतर दो बच्चों के शव बाथरूम में मिले थे। उधर आसाराम के अहमदाबाद आश्रम में भी कुछ साल पहले दो बच्चों के शव मिले थे। तब आशंका जाहिर की गई थी तंत्र-मंत्र की वजह से इनकी हत्या की गई है।

सितंबर 2008 में एमपी के छिंदवाड़ा में आसाराम बापू के गुरुकुल में 3 दिन में दो बच्चों की मौत हो गई थी। इसमें नर्सरी का छात्र राम कृष्ण यादव की डेड बॉडी बाथरूम में औंधे मुंह गिरी मिली तो दो दिन बाद शाम 6:30-7:30 के बीच बाथरूम में केजी के छात्र वेदांत की डेड बॉडी पानी से भरी बाल्टी में औंधे मुंह गिरी मिली।

इन दोनों घटनाओं ने अभिभावकों को झकझोर कर रख दिया था। पहले तो पुलिस ने राम कृष्ण की मौत की वजह सिर में चोट लगना बताया गया और अनुमान लगाया गया कि बाथरूम में गिरने से मौत हुई होगी। बाद में दोनों बच्चों की मौत की वजह दम घुटना बताया गया। जब रामकृष्ण का पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई तो मामला और गरमा गया। रिपोर्ट में बच्चे के शरीर पर किसी तरह के चोट के निशान नहीं मिले और मौत का कारण अज्ञात बताया गया।

गुरुकुल वालों ने गढ़ी थी कहानी
गुरुकुल के स्टाफ ने जो कहानी गढ़ी थी वहीं पुलिस भी सबको बताती थी। कहानी के मुताबिक रामकृष्ण बच्चों के बीच था। वो बाथरूम में गया और उसका सिर नल से टकरा गया। इससे वह अचेत हो गया। इधर उसके रोने या चिल्लाने की आवाज भी किसी को सुनाई नहीं दी। जब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आया तो घटना ने अलग मोड़ ले लिया था। बाद में पुलिस इन्वेस्टिगेशन में ये पाया गया कि गुरुकुल में रहने वाले एक दूसरे बच्चे ने ही घटना को अंजाम दिया और उसने अपना जुर्म कबूल भी लिया है। वेदांत के शरीर पर दांत काटने के निशान थे। इसी आधार पर दूसरे सबूतों के मद्देनजर पुलिस ने 9वीं कक्षा में पढ़ने वाले 14 साल के बच्चे को हिरासत में लिया था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week