बारिश में धुल गई कंगारुओं की हेंकड़ी, इंडिया ने 26 रन से हराया पहला मैच

Sunday, September 17, 2017

चेन्नई। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच वनडे मैचों की सीरीज के पहले मुकाबाले में भारत ने 26 रन से जीत दर्ज की है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने महेंद्र सिंह धोनी और हार्दिक पांड्या की शानदार पारी की बदौलत 281 रन बनाए थे। ऑस्ट्रेलिया के सामने बारिश की वजह से 21 ओवर में 164 रन का लक्ष्य रखा गया था। मेहमान टीम 9 विकेट पर 137 रन ही बना सकी। धोनी और पांड्या ने टीम को उस समय मदद दी जब टीम ने अपने पांच विकेट सौ रनों से पहले ही खो दिए थे। इन दोनों ने छठे विकेट के लिए 118 रनों की साझेदारी की। मेजबान कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। लेकिन मेहमान टीम के तेज गेंदबाज नाथन कल्टर नाइल ने 13 रनों पर भारत के तीन विकेट लेकर उसे बैकफुट पर पहुंचा दिया। नाइल ने पहले अजिंक्या रहाणे (5) को विकेट के पीछे मैथ्यू वेड के हाथों कैच कराया। 

अगला ओवर मेडेन गया और छठवें ओवर की पहली गेंद पर नाइल की गेंद पर ग्लैन मैक्सवेल ने कोहली का शानदार कैच पकड़ा। भारतीय स्टार बल्लेबाज खाता भी नहीं खोल पाया। मनीष पांडे का अंजाम यही हुआ। वह भी 11 के कुल स्कोर पर बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (28) और केदार जाधव (40) ने फिर मोर्चा संभाला। दोनों रंग में आ रहे थे और मेहमान गेंदबाजों का अच्छा स्वागत कर रहे थे। तभी आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ ने गेंदबाजी में बदलाव किया और मार्कस स्टोइनिस को लाए। स्टोइनिस की दो शॉर्ट पिच गेंदों ने रोहित और जाधव को पवेलियन भेज दिया। यह दोनों बल्लेबाज गलत शॉट खेल कर आउट हुए।

रोहित का कैच डीप मिडविकेट पर नाइल ने लपका जबकि जाधव को शॉर्ट मिडविकेट पर हिल्टन कार्टराइट ने कैच किया। भारत ने 87 के कुल स्कोर पर पांच विकेट खो दिए थे। यहां से ऐसी परिस्थितयों के आदि हो चुके धौनी ने अपनी जिम्मेदारी संभाली। धौनी ने जैसे ही मैदान पर कदम रखा चेन्नई के दर्शकों ने उनका नाम लेकर जोरदार स्वागत किया। उन्होंने, पांड्या के साथ मिलकर पहले विकेट पर पैर जमाए। दोनों ने सूझबूझ से खेल खेला। 

आतिशी बल्लेबाजी के मशहूर पांड्या भी एक-एक रन के लिए खेल रहे थे। 37वें ओवर में पांड्या ने अचानक से गियर बदला और लेग स्पिनर एडम जाम्पा के एक ओवर में तीन छक्केऔर एक चौके की मदद से 24 रन बटोरते हुए अपना अर्धशतक पूरा किया। पांड्या ने इस औवर में तीन लगातार छक्के लगाए। वह अपने अभी तक के करियर में ऐसा चौथी बार कर चुके है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week