नर्मदा नहर में बह गया किशोर, 12 घण्टे बाद भी नही मिला शव

Friday, September 29, 2017

सिहोरा। जबलपुर जिले में कुछ किशोर घर से गांव के पास की नर्मदा नहर में नहाने के लिए सुबह करीब 11 बजे गए हुये थे। जो करीब एक घण्टे तक तैर कर पानी मे मस्ती करते रहे तभी दो किशोर अचानक नहर की गहराई में जाकर तेज बहाव में फंस गए। जिसमे एक किशोर को बचा लिया गया। जिसे गंभीर हालत में अस्पताल भेजा गया। जबकि एक किशोर नहर के तेज बहाव में दोस्तो के सामने नहर में गुम हो गया। जिसकी जानकारी साथ मे नहाने गए किशोरों ने घर पर आकर दी और परिजनों ने पुलिस को सूचना दी, जिस देर शाम तक तलास करते रहे। लेकिन किशोर का कुछ पता नही चला। जिसकी तलाश पुनः दूसरे दिन शुरू की जाएगी । ज्ञात हो कि नर्मदा नहर में डूब कर मौत होने की एक माह में यह तीसरी घटना है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सिहोरा के साथ नहर में गगन पिता बलभद्र काछी (15वर्ष) ग्राम मोहला थाना सिहोरा निवासी नर्मदा नहर में नहाते समय बह गया किशोर,7 घण्टे बाद भी नही मिला गगन अपने तीन दोस्तों के साथ नहर मे नहाने गया हुआ था। दीपक काछी(14वर्ष)  सौरभ पटेल (14वर्ष) और दुर्गेश काछी (15वर्ष) के साथ NH7 के किनारे स्तिथ नर्मदा नहर में सुबह करीब 11 बजे नहाने गया था। जो करीब घण्टे भर नहर में तैरते रहे और मस्ती करते रहे। 

तभी नहाते समय अचानक ही गगन और दुर्गेश नहर के तेज बहाव में चला गए जिसमे दुर्गेश की किसी तरह पास में मौजूद लोंगो ने नहर से अचेत अवस्था में निकाला जबकि गगन नहर के तेज बहाव में गुम हो गया। गहराई अधिक होने की वजह से गगन दोस्तो के सामने ही डूब गया । किशोर के साथ नहाने गए तीन अन्य बच्चे घर आये और घटना की जानकारी परिजनों को दी जिसकी सूचना परिजनों द्वारा पुलिस को दी गई सूचना मिलते ही मौके पर पहुँची पुलिस ने नहर में डूबे किशोर की तलाश शुरु कर दी थी । लेकिन रात में समाचार लिखे जाने तक किशोर का शव नही मिला। जबकि गोताखोरों द्वारा दूसरे दिन पुनः तलाश की जाएगी।

10 घण्टे तक किया तलाश
किशोर के डूबने की सूचना मिलते ही तत्काल पुलिस बल मौके पर पहुंच गया और स्थानीय लोगों की मदद से एक किशोर को नहर से अचेत अवस्था मे निकाला गया जबकि दूसरा बच्चा नहर की धार मे गुम हो गया जिसकी तलास दिन भर करते रहे और काफी खोजबीन करने पर जब बच्चे का शव नही मिला तो थाना प्रभारी संजय दुबे , उमलेश तिवारी ने स्थानीय गोताखोरों को बुलाकर उनकी मदद ली लेकिन रात साढ़े आठ बजे तक बच्चे का कोई सुराग नही लगा जबकि गोताखोरों ने जिस जगह पर बच्चा डूबा था उस जगह से लेकर आगे 2 किमी तक नहर में तलास की लेकिन बच्चा नही मिला। जबकि नहर की धार बहुत तेज है जिसकी वजह से गोताखोरों को भी तलाश करने में परेशानी हुई है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week