महिला ने फर्जी ID बनाकर महंत का फंसाया, अश्लील चैटिंग वायरल कर दी

Sunday, August 27, 2017

इंदौर। लखनऊ निवासी एक डॉक्टर महिला ने बदला लेने के लिए फर्जी आईडी बनाई और मध्यप्रदेश मंदसौर के सीतामऊ में रहने वाले एक महंत एवं पुजारी संघ अध्यक्ष जितेंद्रदास को फंसा लिया। महंत के साथ उसने अश्लील चैटिंग की, न्यूड फोटो भी मांगे और जब पर्याप्त मसाला हाथ लग गया तो सबकुछ सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। अब महंत का कहना है कि उनकी आईडी का दुरुपयोग हुआ है। फेसबुक और वाट्सएप के बारे में वे ज्यादा नहीं जानते, किसी और ने इन्हें चलाया है। महिला ने अभी पुलिस से कोई शिकायत नहीं की है परंतु पुलिस ने दूसरे संगठनों से मिली शिकायत के आधार पर जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि महिला महंत जितेंद्रदास से इसलिए नाराज थी क्योंकि उन्होंने वाट्सएप ग्रुप हिंदू राष्ट्र सेना पर एक संत के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की थी। 

महिला डॉक्टर द्वारा अश्लील चैटिंग का आरोप लगाने के बाद सीतामऊ निवासी रामकुंड के महंत व पुजारी संघ अध्यक्ष जितेंद्रदास को लेकर विरोध शुरू हो गया है। चैट के वायरल होते ही सामाजिक संगठनों ने रविवार को विरोध स्वरूप महंत का पुतला फूंका। कई संगठनों ने केस दर्ज करने की मांग भी की है। टीआई ने भी संबंधित महिला से फोन पर मामले को लेकर चर्चा की। महिला ने अगले महीने सीतामऊ पहुंचकर शिकायत की बात कही है।

खुद ही सारे फोटो और मैसेज वायरल किए
महिला ने महंत के खिलाफ खुद ही सारे फोटो और मैसेज वायरल किए हैं। इनमें से कुछ फोटो और मैसेज काफी अश्लील हैं। महिला के अनुसार वह और सीतामऊ निवासी महंत हिंदू राष्ट्र सेना के वाट्सएप ग्रुप में सदस्य थे। एक माह पहले महंत ने सेना के संत के खिलाफ कुछ अश्लील कमेंट्स किए थे। इस पर जानकारी निकालने के लिए महिला ने फर्जी आईडी बनाकर महंत से चैटिंग शुरू की। इसके बाद महंत अश्लीलता पर उतरा गया। इसके बाद महिला ने सारी पोस्ट वायरल कर दी, ताकि महंत की सारी सच्चाई लोगों के सामने आ सके।

मैंने महिला को आज तक नहीं देखा
उधर, महंत जितेंद्रदास का कहना है कि जो महिला मुझ पर आरोप लगा रही है उसे मैंने आज तक नहीं देखा। फेसबुक-वाट्सएप भी मैं ज्यादा नहीं जानता। हो सकता है किसी और ने मेरे वाट्सएप-फेसबुक आईडी का दुरूपयोग किया हो। मैं दिल्ली में हूं, मामले की साइबर जांच कराऊंगा। इसके बाद सब साफ हो जाएगा।

महंत ने और भी महिलाओं का शोषण किया
जिला पंचायत सदस्य रमेश गुर्जर, हनुमान झंडा समिति सदस्य मनोज शुक्ला, भाजपा मंडल अध्यक्ष राधेश्याम बाथर ने बताया महंत ने नगर में भी तीन महिलाओं का शोषण किया, लेकिन उसके प्रभाव के चलते महिलाओं ने आवाज नहीं उठाई। अब आवाज उठी है तो उसके साथ-साथ सभी महिलाओं को न्याय मिलना चाहिए। यदि ऐसा नहीं होता तो मामले के विरोध में आंदोलन किया जाएगा। सभी संगठन सदस्यों ने लदुना चौराहे पर महंत जितेंद्रदास का पुतला फूंका और नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया।

आईटी एक्ट में हो सकती है कार्रवाई
अश्लील मैसेज व फोटो भेजने के मामले में पुलिस महंत पर आईटी एक्ट में कार्रवाई कर सकती है। यदि महिला शिकायत भी नहीं करती तो भी पुलिस साक्ष्यों को देखते हुए खुद भी संज्ञान ले सकती है।

शिकायत मिली है, जांच कर रहे हैं
टीआई ने बताया महंत के खिलाफ सामाजिक संगठन और महिला ने शिकायत की है। हालांकि महिला यहां नहीं होने से उससे फोन पर ही बात हुई है। महिला ने अगले महीने यहां आकर रिपोर्ट दर्ज करवाने की बात कही है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week