GWALIOR: MBBS स्टूडेंट्स और जूडा के बीच मारपीट, डॉक्टरों ने मरीजों का इलाज बंद कर दिया

Wednesday, August 2, 2017

सर्वेश त्यागी/ग्वालियर। गजराजा मेडीकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर्स ओर एमबीबीएस छात्र आपस में उलझ गए। विवाद इतना बढ़ गया कि दोनों में मारपीट हो गई। इसके बाद जूनियर डॉक्टर्स ने जयारोग्य अस्पताल में उपचार करना बंद कर दिया। उधर मेडिकल छात्रों का कहना है कि हमने जूनियर डॉक्टर्स की बेहूदी बातें नही मानी इसलिय जूनियर डॉक्टर्स हमको जान बूझकर फेल कर रहे है। जूनियर डॉक्टर्स का कहना है कि हमें सुरक्षा प्रदान नहीं की गई तो हम हड़ताल पर चले जायेंगे। अब मेडिकल कालेज के डीन ओर अधीक्षक इस विवाद को सुलझाने में लगें हुए है।

ग्वालियर के गजराजा मेडिकल कालेज में कुछ दिनों पहले जूनियर्स डॉक्टर्स ओर एमबीबीएस छात्रों के बीच विवाद हो गया था। जिसमें डॉक्टर्स ने छात्रों को पीट दिया। छात्र इसी बात से जूनियर डॉक्टर्स से बदला लेने की फिराख में थे। कल रात डॉक्टर फैजल, डॉ इमरान, और डॉ ऋषभ जयारोग्य अस्पताल में नाईट ड्यूटी पर थे। वो अस्पताल के पास चाय पीने गए, तभी मौका पाकर एमबीबीएस छात्रों ने उन तीनों को पीट दिया। जब इसकी शिकायत जूनियर डॉक्टर्स ने कॉलेज प्रबंधन से की तो उन्होने मामले को रफादफा करने के लिए कहा। जिसपर जूनियर डॉक्टर्स ने काम करना बंद कर दिया और प्रबंधन को धमकी दी कि छात्रों को कॉलेज से नहीं निकला तो हमलोग हड़ताल पर चले जाएंगे।

मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ अचल गुप्ता और जेएस अस्पताल अधीक्षक डॉ जेएस सिकरवार जूनियर्स डॉक्टर्स से मिले, डीन ने कहा कि बिना नोटिस दिए हडताल करना गैर कानूनी है। जूनियर डॉक्टर्स का कहना कि सिक्यूरिटी नहीं मिलेगी तो हम काम नहीं करंगे। उन छात्रों पर कार्यवाही की मांग की, और हड़ताल की धमकी भी दी।

जूनियर डॉक्टर्स को आश्वासन दिया कि इस मुद्दे के लिए कॉलेज कॉउंसलिंग की मीटिंग बुलाई जा रही है, उसमे मामले को रखा जाएगा और छात्रों पर उचित कार्यवाही की जाएगी। इस आश्वासन के बाद जुनियर डॉक्टर्स ने काम पर वापस लौट आए, मगर एमबीबीएस छात्रों का कहना है कि हमने कोई मारपीट नही की है अगर हमारे खिलाफ कार्यवाही हुई तो हम लोग भी उचित कदम उठाएगे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं