CMO के खिलाफ लामबंद हुआ कर्मचारी संघ, 5 महिला कर्मचारी बर्खास्त, 4 का वेतन रोका, 1 सस्पेंड

Wednesday, August 30, 2017

जबलपुर। मध्य प्रदेश राज्य कर्मचारी संघ जबलपुर के अध्यक्ष आलोक अग्निहोत्री ने जारी विज्ञप्ति मे बताया कि जिले के स्वास्थ्य कर्मचारियों के वेतन का भुगतान समय पर न होने से कर्मचारियों मे रोष रहता है। विगत जुलाई माह का वेतन का भुगतान कुछ कर्मचारियों को 24 अगस्त के बाद हुआ। वहीं कुछ को अभी तक वेतन अप्राप्त है। जहां इस माह रक्षाबंधन व जन्माष्टमी जैसा त्योहार कर्मचारी उधारी लेकर मनाने मजबूर हो गया। 

अधिकारी बजट का उपयोग अपने लाभ वाले कार्य मे कर रहे है। संपर्क करने पर झूठ बोला जाता है कि वेतन भुगतान हो गया। अगस्त माह भी समाप्ति पर है पता नही इस माह के वेतन का भुगतान कब होगा? संघ के राजेन्द्र त्रिपाठी, प्रशांत सोधिया,अमित गौतम, रितुराज गुप्ता, सुधीर गौतम, नरेश शुक्ला ने वेतन भुगतान न होने पर सी.एम.ओ.के खिलाफ आंदोलन कि चेतावनी दी है।

5 महिला कर्मचारी बर्खास्त, 4 कर्मचारियों का वेतन रोका, 1 सस्पेंड
जबलपुर। शासकीय दायित्वों के प्रति लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही करने के कलेक्टर महेश चन्द्र चौधरी के निर्देशों पर जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास द्वारा जिले में पदस्थ एक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता तथा चार आंगनबाड़ी सहायिकाओं को बर्खास्त कर दिया है। इसके साथ ही कर्तव्य पालन में उदासीनता बरतने पर एक सुपरवाईजर, एक सहायक ग्रेड तीन तथा दो भृत्यों की वेतन वृद्धि रोक दी गई है। जबकि एक सहायक ग्रेड तीन को निलंबित कर दिया गया है। 

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास मनीष शर्मा के मुताबिक कलेक्टर के निर्देशानुसार विभाग के सभी अधिकारियों-कर्मचारियों एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को अपने दायित्वों का गंभीरता और सजगता से निर्वाह करने के निर्देश दिये गये हैं। विभाग के फील्ड में तैनात सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को किसी भी तरह की अनियमितता या लापरवाही पाये जाने पर उनके विरूद्ध सख्त कार्यवाही की चेतावनी भी दी गई है। 

जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि कर्तव्यों के प्रति लापरवाही बरतने के मामले में जिन आंगनबाड़ी सहायिकाओं को सेवा से पृथक किया गया है उनमें आई.सी.डी.एस. शहरी क्रमांक-दो जबलपुर के अंतर्गत आंगनबाड़ी केन्द्र क्रमांक 36 में पदस्थ श्रीमती संगीता गौंड, आई.सी.डी.एस. शहरी क्रमांक-छह जबलपुर के अंतर्गत आंगनबाड़ी केन्द्र क्रमांक 67 में पदस्थ श्रीमती मोना शर्मा, आई.सी.डी.एस. शहरी क्रमांक-पांच जबलपुर के अंतर्गत आंगनबाड़ी केन्द्र क्रमांक 73 में पदस्थ फरहत परवीन एवं आंगनबाड़ी केन्द्र क्रमांक-74 में पदस्थ निकत परवीन शामिल हैं। इसी तरह लापरवाही बरतने के मामले में आंगनबाड़ी केन्द्र रैयाखेड़ा आई.सी.डी.एस. शहपुरा की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती वंदना चौधरी को बर्खास्त कर दिया गया है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी के अनुसार विशेष वजन अभियान के प्रति उदासीनता बरतने तथा निर्देशों के अवहेलना करने पर आई.सी.डी.एस. शहपुरा की पर्यवेक्षक श्रीमती सविता राठौर की दो वेतन वृद्धि, दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही बरतने पर आई.सी.डी.एस. पनागर के सहायक ग्रेड तीन अमित श्रीवास्तव की एक वेतन वृद्धि, आई.सी.डी.एस. मझौली में पदस्थ भृत्य शंभू सिंह राजपूत की दो वेतन वृद्धि तथा आई.सी.डी.एस. शहरी क्रमांक-तीन जबलपुर में पदस्थ भृत्य श्रीमती सविता मलिक की दो वेतन वृद्धि रोकी गई हैं। 

जबकि नशे की हालत में कार्यालय में उपस्थित होने के आरोप में आई.सी.डी.एस. मझौली के सहायक ग्रेड तीन उदय कुमार कोल को निलंबित किया गया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week