BJP से डेरा बाबा के रिश्ते वायरल, खट्टर नाकाम फिर भी कुर्सी सलामत रहेगी

Saturday, August 26, 2017

नई दिल्ली। हाईकोर्ट द्वारा चेतावनी दिए जाने के बाद भी मनोहर लाल खट्टर की सरकार हरियाणा में हिंसा नहीं रोक पाई और 31 लोगों की मौत हो गई जबकि 200 से ज्यादा घायल हुए। इतना ही नहीं हजारों करोड़ की संपत्ति का नुक्सान हो गया। माना जा रहा था कि मोदी और शाह इसे सरकार की नाकामी मानेंगे और कम से कम मनोहर लाल खट्टर से तो इस्तीफा ले ही लेेगे। उम्मीद थी विपक्ष राष्ट्रपति शासन की मांग करेगा परंतु ऐसा कुछ नहीं हुआ। अमित शाह ने खट्टर को क्लीनचिट दे दी है। हरियाणा में खट्टर को अब कोई खतरा नहीं है। क​मजोर विपक्ष किसी तरह की मांग करने की स्थिति में ही नहीं है। 

इसी संदर्भ में दिल्‍ली में भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह के नेतृत्‍व में हरियाणा के हालात पर चर्चा के लिए पार्टी की बैठक हुई। इसमें हरियाणा के पार्टी प्रभारी अनिल जैन एवं अन्य नेताओं ने अमित शाह ने मुलाकात की। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के बारे में पूछे जाने पर पार्टी सूत्रों ने बताया, ‘‘न तो ऐसा कोई विचार किसी ने सामने रखा है और न ही कुछ तय हुआ है। भाजपा सूत्रों का दावा है कि  खट्टर को दिल्‍ली तलब तक नहीं किया गया है, इस्तीफ का तो सवाल ही नहीं है। 

ये है पूरा मामला
उल्‍लेखनीय है कि गुरमीत राम रहीम को साध्वी से बलात्कार मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद उसके समर्थकों ने हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली समेत दूसरे पड़ोसी राज्यों में भारी उत्पात मचाया है। इस उपद्रव में अब तक करीब 31 लोगों की जान जा चुकी है। पंजाब, हरियाणा हाईकोर्ट ने शुक्रवार एक जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान उत्पात से हुए नुकसान की भरपाई के लिए गुरमीत राम रहीम की संपत्ति बेचने का आदेश दिया था। शनिवार को इसी मामले में सुनवाई हुई।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week