योगी आदित्यनाथ संभले नहीं तो कुर्सी चली जाएगी: ज्योतिष

Wednesday, August 30, 2017

यदि किस्मत के दम पर आदमी यदि उच्चपद पर पहुंच भी जाये तो उस पद पर रहकर जातक को अपने प्रबंधकौशल से अपनी क्षमता को साबित करना पड़ता है। यही हाल इस समय योगी आदित्यनाथ का हो रहा है। नरेंद्रमोदी और अमितशाह के कारण वे उत्तरप्रदेश मे सत्ता पर आ तो गये लेकिन सबकुछ पक्ष मे होने के बाद भी वे कुशलतापूर्वक ये सब कार्य नही कर पा रहे है।बच्चो की मौत पर उनका बयान उनके राजनैतिक अकुशलता को दिखा रहा है।

योगी को केतु की दशा
योगी इस समय केतु की दशा मे चल रहे है केतु उनके जन्मान्क मे छठे स्थान मे स्थित है जिसके कारण वे अपने शत्रु पर भारी पड़ रहे है लेकिन केतु जो बच्चो का कारक ग्रह है उनसे सम्बंधित घटनाये योगी के लिये कष्ट का कारण बन सकते है। केतु की दशा मे केतु से जुड़ी चीजे जैसे आकस्मिक बाधा, प्राकृतिक बाधा तथा अदृश्य तरीके के षडयंत्र योगी को मानसिक रूप से प्रताडित कर सकते है जिससे योगी मानसिक रूप से परेशान होकर उल्टे सीधे बयान देकर विरोधियों के निशाने पर आ जायें साथ ही केन्द्र से भी उनको फटकार मिले।

कर्क का राहु लेगा कड़ी परीक्षा
कर्क का राहु उत्तरदिशा मे स्थित सभी धर्मप्रमुख तथा मुख्यमंत्री आदि की कड़ी परीक्षा लेगा विशेषकर जो धार्मिक है उनकी विशेषकर। योगी आदित्यनाथ धर्मगुरु भी है मुख्यमंत्री भी और उत्तरदिशा मे भी है यदि आने वाले डेढ़वर्ष मे उन्होने अपने बयानों पर ध्यान नही दिया तो उनकी कुर्सी भी जा सकती है।

केतु की दशा मे क्या करें
केतु ग्रह से बच्चों, कुत्तों, प्राक्रतिक आपदा आदि के विषय मे देखा जाता है। केतु मानसिक पीडा भी देता है जिसका समाधान यह है की आपको भगवान गणेश की पूजा करनी है तथा शांतिपूर्वक समस्या का समाधान खोजना है। यदि आपने अपने कष्ट का बयान किया तो आपकी तकलीफ और बढ़ जायेगी। आपको शांति धैर्य तथा मौन का सहारा लेना पड़ेगा तभी आप केतु की दशा का अच्छा परिणाम ले सकते है।
प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"
9893280184,7000460931

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week