अतिथि शिक्षक ने प्रिंसिपल को सिखाया ऐसा सबक, जिंदगी भर नहीं भूलेगा

Friday, August 4, 2017

दतिया। मध्यप्रदेश की पावन नगरी दतिया में एक ​अतिथि शिक्षक ने अपने ही स्कूल के प्राचार्य को एक ऐसा सबक सिखा दिया कि अब वो इसे जिंदगी भर नहीं भूलेगा। अतिथि शिक्षक ने रिश्वत मांग रहे प्राचार्य को लोकायुक्त की गिरफ्त तक पहुंचा दिया। प्राचार्य अपने स्कूल के अतिथि शिक्षक का वेतन निकालने के बदले रिश्वत की मांग कर रहा था। 

ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस के अनुसार, जुझारपुर हायर सेकंडरी स्कूल प्राचार्य व संकुल प्रभारी द्वारका राजपूत को अतिथि शिक्षक बलवीर रावत की शिकायत पर रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया।बलवीर रावत ने अपनी शिकायत में कहा था कि, पिछले साल सिलोरी के प्राइमरी स्कूल में उन्होंने अतिथि शिक्षक के रुप मे कार्य किया था। उसका मानदेय 29000 रुपए था, जिसे निकालने के एवज में प्राचार्य द्वारका राजपूत ने बलवीर से 6 हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी।

बलवीर ने लोकायुक्त पुलिस को इस बारे में शिकायत कर दी। शिकायत की तस्दीक के बाद लोकायुक्त पुलिस की एक टीम ने गुरुवार दोपहर को प्राचार्य राजपूत को रिश्वत लेते हुए धर दबोचा। लोकायुक्त पुलिस ने प्रिंसिपल के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं