समंदर बन गई मायानगरी, सब कुछ बंद, बुधवार को छुट्टी घोषित, हेल्पलाइन का पता नहीं

Tuesday, August 29, 2017

मुंबई। 3 दिनों से लगातार चल रही बारिश ने मायानगरी मुंबई को समंदर में तब्दील कर दिया है। चारों तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। सड़कें, घर और कारें सब पानी में डूब गया है। मंगलवार को 9 घंटे में 298 मिलीमीटर बारिश हुई। यानी करीब 30 सेंटीमीटर या तकरीबन 12 इंच। महानगर के कई इलाके पानी में डूब गए हैं। चारों तरफ हाहाकार नजर आ रहा है। कई इलाकों में लोकल ट्रेन नहीं चलीं। लो विजिबिलिटी की वजह से छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर फ्लाइट ऑपरेशन को कुछ वक्त के लिए रोकना पड़ा। महाराष्ट्र सरकार ने सभी ऑफिसेस को जल्द छुट्टी का आदेश दिया। कल स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे। कहा जा रहा है कि मुंबई में 2005 जैसे हालात हैं। सरकार का कहना है कि वो हर आपात स्थिति के लिए तैयार है परंतु उसने हेल्पलाइन जारी नहीं की है। यदि कोई संकट में फंसा है तो कहां संपर्क करे। किससे मदद मांगे। 

मुंबई में हालात क्यों बिगड़े?
मुंबई में पिछले तीन दिनों से लगातार बारिश हो रही है। सोमवार सुबह 8 बजे से मंगलवार सुबह तक करीब 152 मिमी बारिश हुई। स्कायमेट की रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार को ही 9 घंटे में 30 सेमी (298 मिमी‌‌) बारिश दर्ज की गई। वेदर डिपार्टमेंट, पुणे के अफसर एके श्रीवास्तव बताते हैं कि मुंबई, साउथ गुजरात, कोंकण, गोवा और वेस्ट विदर्भ में 24 से 48 घंटे में भारी से भारी बारिश हो सकती है। इससे हालात और बिगड़ सकते हैं।

कहां असर हुआ?
मुंबई की लाइफ लाइन लोकल ट्रेन पर असर हुआ। सेंट्रल, वेस्टर्न और हार्बर लाइन्स पर लोकल ट्रेन रुक-रुक कर चलीं। कुछ इलाकों में बेस्ट की सर्विस बंद रही। न ऑटो चले और न टैक्सी रोड पर देखी गईं। लोग पैदल चलकर ऑफिस जाने के लिए स्टेशन पहुंचे।
फ्लाइट ऑपरेशन पर भी असर पड़ा। लो विजिबिलिटी की वजह से छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर फ्लाइट ऑपरेशन को 45 मिनट तक रोकना पड़ा। मुंबई एयरपोर्ट से कुल 10 फ्लाइट्स रद्द हुईं। 7 फ्लाइट्स डायवर्ट की गईं। इनमें तीन फ्लाइट्स 6E-453 कोयंबटूर-मुंबई, 6E-5924 गुवाहटी-मुंबई और 6E-1708 दोहा-मुंबई को अहमदाबाद शामिल हैं। वहीं, 6E-665 दिल्ली-मुंबई, 6E-168 मुंबई-दिल्ली फ्लाइट्स रद्द हो गई। जेट एयरवेज ने बताया कि उसने भी अपनी तीन फ्लाइट्स को रद्द कर दिया।

लोअर परेल, जोगेश्वरी, विक्रोली, दादर, एलफिस्टन, कुर्ल, अंधेरी, खार, वेस्ट, घाटकोपर, सायन और हिंदमाता इलाकों में पानी भरने से जाम लग गया। परेल स्थित केईएम हॉस्पिटल के ग्राउंड फ्लोर में पानी भर गया। जिसकी वजह 30 मरीजों को दूसरी फ्लोर पर शिफ्ट करना पड़ा।

मुंबई पुलिस ने कहा: घरों में रहें, बाहर ना निकलें 
मुंबई पुलिस ने ट्वीट में कहा- "शहर के कई इलाकों में वाटर लॉगिंग होने से ट्रैफिक धीमा और कई जगह जाम है। इसलिए बहुत ही जरूरी होने पर घर से बाहर निकलें। पानी की वजह से अगर आप कहीं फंस गए हैं तो 100 नंबर डॉयल करें या हमें ट्विटर पर जानकारी दें।

मोदी ने फडणवीस से बात की, लोगों से कहा- एहतियात बरतें
नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर बताया- "मुंबई में हो रही बारिश को लेकर मैंने महाराष्ट्र सीएम देवेंद्र फडणवीस से बात की। इन हालात से निपटने के लिए केंद्र सरकार महाराष्ट्र सरकार को सभी तरह की मदद मुहैया कराएगी। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे सुरक्षित इलाकों में रहे और जरूरी एहतियात बरतें। गृहमंत्री राजनाथ ने भी फोन पर देवेंद्र फडणवीस से बात कर हालचाल जाने।

26 जुलाई 2005 की याद दिला दी
मुंबई के हालात ने 26 जुलाई 2005 की याद दिला दी। तब भारी बारिश के बीच हजारों लोग रातभर सड़कों पर फंसे रहे थे। गाड़ियों में सफोकेशन और अन्य वजहों से करीब 500 लोगों की मौत हुई थी। मंगलवार की बारिश उसके बाद की सबसे ज्यादा बारिश है। बारिश ऐसी हुई कि बीएमसी को 12 साल बाद इमरजेंसी अलर्ट जारी करना पड़ा। मौसम विभाग के डायरेक्टर जनरल केजे रमेश ने इससे इनकार किया। उन्होंने कहा कि अभी 26 जुलाई 2005 जैसे हालात नहीं हैं। बता दें कि 26 से 27 जुलाई तक एक दिन में मुंबई में 94 सेमी (944 मिमी) बारिश हुई थी। मुंबई में आमतौर पर एक दिन में 10 से 15 सेमी बारिश नॉर्मल मानी जाती है।

सरकार ने हेल्पलाइन जारी नहीं की
एनडीआरएफ की 5 टीमों को मुंबई में अलर्ट पर रखा गया है। 5 एडिशनल टीम को पुणे से मुंबई भेजा गया है। वेदर डिपार्टमेंट ने अगले 24 घंटों में महाराष्ट्र में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। खासकर नॉर्थन कोंकण रीजन में। बीएमसी के डिप्टी म्युनिसिपल कमिश्नर सुधीर नाईक 6 बड़े पंपिंग स्टेशन स्थापित किए गए हैं। वहीं, बीएमसी के 30,000 कर्मचारी शहर के अलग-अलग इलाकों में काम कर रहे हैं। नेवी ने कहा कि 42 हेलिकॉप्टर और गोताखोर बचाव अभियान चलाने के लिए दिन-रात मुस्तैद हैं। नेवी ने जरूरत पड़ने पर अपनी पांच बचाव टीम, दो गोताखोर टीम और मेडिकल टीमों को तैयार रखा है लेकिन अभी तक हेल्पलाइन जारी नहीं की। यदि कोई संकट में है तो कहां संपर्क करे यह नहीं बताया। 

कल स्कूल-कालेज बंद रहेंगे
महाराष्ट्र एजुकेशन मिनिस्टर विनोद तावडे ने बताया कि बुधवार को सभी स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे। मंगलवार को कुछ स्कूल ने जल्दी छुट्टी कर दी थी। वहीं, सरकार ने सभी ऑफिसेस को छुट्टी करने के आदेश दिए थे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं