सवा साल से मां का कंकाल अमेरिका गए बेटे का इंतजार कर रहा था

Monday, August 7, 2017

मुंबई। मां मुंबई में और बेटा परिवार समेत अमेरिका में था। अजीब बात यह है कि मां और बेटे के बीच सवा साल से कोई बातचीत नहीं हुई थी। आज बेटा भारत लौटा तो देखा घर में मां का कंकाल पड़ा है। घटना शहर के लोखंडवाला इलाके की एक पॉश सोसाइटी की दसवीं मंजिल पर स्थित एक फ्लैट की है। वृद्धा की उम्र 63 साल बताई गई है। रविवार को बेटा जब घर पहुंचा तो मां के फ्लैट का दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजा तोड़ने के बाद अंदर जाने पर उसने मां का कंकाल बेड पर देखा। 

महिला का नाम आशा केदार साहनी है। उनके पति केदार साहनी की 2013 में डेथ हो चुकी है।  उसका बेटा रितुराज साहनी अमेरिका में आईटी इंजिनियर हैं। वह परिवार के साथ अमेरिका में ही रहते हैं। पुलिस के मुताबिक, आशा ने अप्रैल 2016 में आखिरी बार बेटे को फोन करके कहा था कि, वे अब अकेलेपन में नहीं रहना चाहतीं और किसी वृद्धाश्रम में चली जाएंगी। पुलिस को शक है कि, भूख और कमजोरी से उनकी मौत हो गई होगी। बता दे कि, महिला के नाम पर बेलस्कॉट टावर में करीब 5 से 6 करोड़ रुपये दो ‌फ्लैट हैं। फ्लैट में मां का कंकाल देख बेटे ने पुलिस को इसकी जानकारी दी। पुलिस ने कंकाल का पंचनामा कर उसे पोस्टमॉटर्म के लिए गोरेगांव स्थित सिद्धार्थ अस्पताल भेज दिया है।

कैसे सुलझेगी गुत्थी
जोन-9 के डीसीपी परमजीत सिंह दाहिया ने बताया कि आशा की संदिग्ध स्थिति में हुई मौत की गुत्थी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट व फॉरेंसिक रिपोर्ट, बेटे रितुराज के मोबाइल कॉल्स के विवरण (सीडीआर), सीसीटीवी और अन्य सबूतों व सुरागों की जांच से सुलझ सकती है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week