स्कूल में पड़ा बम उठाकर भागा हवलदार, जान का जौखिम उठाकर बच्चों को बचाया

Saturday, August 26, 2017

भोपाल। घूसखोर पुलिस को गालियां तो रोज ही देते हैं परंतु आज पीठ थपथपाने की बारी है। मप्र पुलिस के हवलदार अभिषेक पटेल ने स्कूल में मौजूद सभी बच्चों की जान बचाने के लिए अपनी जान जोखिम में डाल दी। बिना किसी बम निरोधी ड्रेस के हवलदार अभिषेक पटेल ने बम को उठाया और स्कूल से दूर खुले मैदान में रख दिया ताकि यदि बम फटे तो कोई जनहानि ना हो। हवलदार अभिषेक पटेल को अब हर कोई शाबाशी दे रहा है। 

मध्य प्रदेश के सागर जिले के चितौरा में एक स्कूल में बम मिलने की खबर से दहशत फैल गई। स्कूल परिसर में पड़े इस बम को कुछ छात्रों ने देखा। आनन फानन में पुलिस को सूचना दी गई।मौके पर पहुंची पुलिस ने स्कूल परिसर में रखे बम को देखा। स्कूल परिसर में रखे इस बम के कारण स्कूली बच्चों की जान को खतरा हो सकता था। ऐसे में बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए सागर पुलिस के जांबाज हवलदार अभिषेक पटेल ने बम को हाथ में उठाकर खुले मैदान की ओर दौड़ लगा दी। सुरक्षा की दृष्टि से इस बम को खुले मैदान में डाल दिया गया।

बम का वजन 10 से 15 किलो बताया गया है। हवलदार अभिषेक ने बताया कि कुछ दिनों पहले इसी तरह का बम बन्नाद गांव में मिला था, जिसकी मारक क्षमता 100 से 200 मीटर की बताई गई थी। ये भी उसी तरह का बम था। बम के कारण कोई अनहोनी न हो इसलिए उन्होंने इस बम को खुले मैदान में डाल दिया। पूरे इलाके में हवलदार अभिषेक पटेल की बहादुरी की चर्चा की जा रही है।

इस स्कूल के पास ही आर्मी का फायरिंग रेंज है, लेकिन ये बम वहां से स्कूल परिसर में कैसे पहुंचा ये सवाल अब भी बना हुआ है। पुलिस ने आर्मी के अधिकारियों को इसकी खबर दे दी है। फिलहाल आर्मी ने इस बम को अपनी निगरानी में ले लिया है। पुलिस अधिकारियों ने जांबाज हवलदार अभिषेक पटेल को बहादुरी के लिये पुरस्कृत करने का आश्वासन दिया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं


Popular News This Week