जब रामबाबू आ गए तो भगवान राम की क्या जरूरत: भाजपा के जिलाध्यक्ष ने कहा

Monday, August 21, 2017

सीधी। भाजपा के जिलाध्यक्ष लालचंद गुप्ता द्वारा हिंदुओं के आराध्य भगवान श्रीराम के अपमान का मामला सामने आया है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच भगवान श्रीराम का मजाक उड़ाया। एक कार्यकर्ता शिकायत कर रहा था कि टीआई रामबाबू जहां जहां पोस्टिंग पर जाते हैं, वहां वहां आसपास के इलाकों के प्राचीन मंदिरों में चोरी हो जातीं हैं। भगवान श्रीराम के मंदिर से उनकी प्रतिमाएं चोरी हो चुकीं हैं। इस पर अपने कार्यकर्ता की बात काटते हुए लालचंद गुप्ता ने कहा 'जब रामबाबू आ गए हैं तो राम की क्या जरूरत।'

भोपालसमाचार.कॉम को प्राप्त हुए वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि एक कार्यकर्ता जिलाध्यक्ष लालचंद गुप्ता के पास में हाथ जोड़कर खड़ा है। बताया जा रहा है कि इस कार्यकर्ता का नाम अमरनाथ तिवारी है। जो बहुत पुराना भाजपा कार्यकर्ता है। अमरनाथ के पिता भी भाजपा के लिए काम करते थे। वीडियो में तिवारी बता रहा है कि सीधी जिले में एक टीआई हैं जिनका नाम रामबाबू है।
वो बता रहा है कि टीआई रामबाबू की पोस्टिंग जहां जहां होती है। उस थाने के आसपास के इलाकों में प्राचीन मंदिरों में चोरियां हो जातीं हैं। तिवारी ने बताया कि जब टीआई रामबाबू मड़वास में रहे तो सुनवर्षा के मंदिर में चोरी हुई। मझौली में रहे बीच बाजार में स्थित प्राचीन मंदिर से प्रतिमा चोरी हुई। अमलिया में रहे तो हिनौती स्थित राममंदिर से प्रतिमा चोरी हो गई। तिवारी चाहते थे कि जिलाध्यक्ष इस मामले को गंभीरता से लें एवं भगवान श्रीराम की चोरी गईं प्रतिमाएं वापस लाने में प्रमुख भूमिका निभाएं, लेकिन जिलाध्यक्ष लालचंद गुप्ता ने बजाए पूरी बात सुनने के, तिवारी को बात को बीच में से ही काटते हुए भगवान श्रीराम का उपहास उड़ा दिया। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week