अब 9 लाख पेट्रोलपंप कर्मियों को केंद्रीय कर्मचारी के समान वेतन मिलेगा

Friday, August 4, 2017

नई दिल्ली। भारत के 56 हजार सरकारी पेट्रोल पंपों पर काम कर रहे 9 लाख कर्मचारियों के लिए गुडन्यूज है। अब उन्हे भी केंद्रीय कर्मचारियों के समान वेतन मिलेगा। इसके अलावा इन कर्मचारियों को केंद्र सरकार की दो विशेष बीमा योजना का फायदा मिलेगा। इस निर्देश के बाद कर्मचारियों का वेतन कम से कम डेढ़ गुना हो जाएगा। यानि यदि कर्मचारी को 10 हजार रुपए वेतन मिल रहा है तो अब वो 15 हजार रुपए हो जाएगा। 

तीन सरकारी तेल मार्केटिंग कंपनियों, इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने अपने डीलर के लिए पेट्रोल और डीजल पर मार्जिन बढ़ाने का ऐलान किया है। साथ ही ये तय हुआ है कि हर किसी के लिए एक समान मार्जिन के बजाए, अलग-अलग शहरों में बिक्री के हिसाब से मार्जिन दिया जाएगा। इस तरह पेट्रोल पर मार्जिन में 9 से 43 फीसदी और डीजल पर मार्जिन में 11 से 59 फीसदी के बीच की बढ़ोतरी होगी। इंडियन ऑयल के चेयरमैन संजीव सिंह के मुताबिक, मार्जिन बढ़ाने की वजहों में मजदूरी में बढ़ोतरी और पूंजी की लागत में बढ़ोतरी मुख्य रुप से शामिल है। मार्जिन की नई दर 1 अगस्त अगस्त से लागू की गयी है।

कैसे होगा कर्मचारियों को फायदा
मार्जिन की व्यवस्था मे बदलाव के साथ ही कुछ नई बातें जोड़ी गयी है। मसलन, कर्मचारियों के लिए कम से कम वेतन की केद्रीय व्यवस्था लागू की जा रही है। इससे वेतन कम से कम 50 फीसदी तक बढ़ सकता है। साथ ही पूरे देश में कमोबेश एक वेतन संभव हो सकेगा। सभी डीलर ये सुनिश्चित करेंगे कि उनके कर्मचारी प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना और प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में शामिल किए जाए। इसके लिए प्रीमियम का भुगतान बढ़े हुए मार्जिन के जरिए होगा। साथ ही सभी डीलर्स से ये भी उम्मीद की जाती है कि वो गुणवत्ता और मात्रा में कोई समझौता नहीं करेंगे। यही नहीं पेट्रोल पम्प पर साफ-सफाई का पूरा इंतजाम होगा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week