फ्री में बांटा रिलायंस जियो, फिर भी मुनाफा 80000 करोड़

Thursday, August 3, 2017

नई दिल्ली। नोटबंदी के दौरान भारतीय टेलीकॉम बाजार में रिलायंस जियो ने धमाकेदार एंट्री की थी। जियो ने पूरी इंडस्ट्री को हिला डाला। फ्री में सिमकार्ड के साथ डाटा और कॉलिंग भी दी। विज्ञापन पर हजारों करोड़ का खर्चा हुआ। नेटवर्क और कर्मचारियों पर भी बड़ा खर्चा किया गया जबकि ग्राहकों से चवन्नी भी नहीं ली गई। बावजूद इसके मुकेश अंबानी की कंपनी को 80000 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ। इसी के साथ देश के सबसे अमीर कारोबारी मुकेश अंबानी अब एशिया के दूसरे सबसे अमीर कारोबारी बन गए हैं। इस साल उनके खजाने में धन 12.5 अरब डॉलर (करीब 80,000 करोड़ रुपए) बढ़ा है। उनकी कुल वैल्थ 35.2 अरब डॉलर (करीब 2.25 लाख करोड़ रुपए) हो गई है। 

ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स की रिपोर्ट में यह जानकारी सामने आई है। इसके मुताबिक, मुकेश अंबानी हांगकांग के कारोबारी ली का-शिंग को तीसरे स्थान पर धकेल कर एशिया के दूसरे सबसे अमीर बने हैं। वहीं, चीन के अलीबाबा ग्रुप के जैक मा पहले नंबर पर हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के सीएमडी मुकेश अंबानी ने 21 जुलाई को कंपनी की 40वीं सालाना आम बैठक (एजीएम) में 4जी फीचर फोन लॉन्च किया था। इसके बाद से कंपनी के शेयर की कीमत तेजी से बढ़ी है। 

20 जुलाई को आरआईएल के एक शेयर की कीमत 1,528.70 रुपए थी। यह एक अगस्त तक 4.90% बढ़कर 1,603.55 रुपए हो चुकी है। यह 4जी फीचर फोन 1,500 रुपए की सिक्यूरिटी डिपॉजिट जमा करने पर मिलेगा।

अभी तो और मुनाफा आना बाकी है 
अब जियो का मार्केट बेस बढ़ने की उम्मीद की जा रही है। अपने फ्री-ऑफर की बदौलत रिलायंस जियो ने शुरूआत के नौ महीनों में 11.73 करोड़ मोबाइल यूजर्स अपने साथ जोड़े हैं। जियो अब भारत की चौथी बड़ी टेलीकॉम कंपनी है। उधर, रिलायंस ने अपने रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल कारोबार में भारी इन्वेस्टमेंट किया हुआ है। कंपनी आने वाले वक्त में 1.15 लाख करोड़ रु. और डालने की उम्मीद है। आरआईएल को अप्रैल-जून तिमाही में रिकॉर्ड मुनाफा हुआ है। इस अवधि में कंपनी का कन्सॉलिडेटेड मुनाफा 28 फीसदी बढ़कर 9,108 करोड़ रुपए तक पहुंच गया। पिछले साल की समान तिमाही के 7,113 करोड़ रुपए था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week