महिला टीआई ने चार्जिंग पर फोन लगाया और 70 हजार रुपए उड़ गए

Thursday, August 17, 2017

इंदौर। अपने भाई से मिलने मंडलेश्वर गई एक महिला टीआई उस समय ठगी का शिकार हो गईं जब उन्होंने अपने भाई के घर अपना मोबाइल फोन चार्जिंग पर लगाया। उनके खाते से 70 हजार रुपए गायब हो गए थे। उन्होंने तत्काल मप्र राज्य साइबर सेल को इसकी शिकायत की। करीब ढाई महीने लंबी छानबीन के बाद साइबर सेल ने आरोपी को दबोच लिया लेकिन जैसे ही मामले का खुलासा हुआ महिला टीआई के होश उड़ गए। उसने अपनी शिकायत ही वापस ले ली। 

एसपी (साइबर) जितेंद्र सिंह ने बताया कि महिला इकाई में पदस्थ एक महिला टीआई ने शिकायत की थी कि वह मई में भाई से मिलने मंडलेश्वर गई थी। इस दौरान उसके खाते से ऑनलाइन 70 हजार रुपए ट्रांसफर कर लिए गए। यह घटना तब हुई जब महिला टीआई ने अपना मोबाइल चार्जिंग पर लगाया था। 

साइबर सेल ने इस मामले में एक प्रॉपर्टी ब्रोकर को पकड़ा जिसके खाते में 70 हजार रुपए जमा हुए थे। पूछताछ में उसने बताया कि उसे यह भुगतान 12वीं के एक छात्र ने दिया है। पुलिस ने जब उस छात्र को पकड़ा तो उसने अपना गुनाह स्वीकार कर लिया। पुलिस ने महिला टीआई को बुलाया। जैसे ही महिला टीआई ने आरोपी ठग का चैहरा देखा वो चौंक उठी। उसने अपनी शिकायत वापस ले ली, क्योंकि आरोपी कोई और नहीं बल्कि उनके भाई का बेटा, उनका भांजा निकला। 

आरोपी छात्र ने पुलिस को बताया कि जब महिला टीआई ने अपना मोबाइल फोन चार्ज पर लगाया था इसी दौरान उसने टीआई के एटीएम कार्ड पर अंकित सीवीवी नंबर पेटीएम में दर्ज कर ओटीपी जनरेट कर लिया। उसने गेम खेलने के बहाने मोबाइल उठाया और ओटीपी नंबर लेकर दोस्त जॉय (प्रॉपर्टी ब्रोकर) के खाते में 70 हजार रुपए ट्रांसफर कर दिए। 

एसपी के मुताबिक, पूछताछ में छात्र ने कबूला कि वह घर आने वाले कई महमानों के साथ इसी तरह ठगी कर चुका है। उसने मुंबई से आए चाचा और दादा के खातों से भी इसी तरह रुपए निकाले थे। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week