12 साल की बेटी को बार-बार नहलाता था, विरोध करो तो पीटता था

Saturday, August 12, 2017

भोपाल। घरेलू हिंसा और भरण-पोषण मामले की सुनवाई के लिए पहुंची महिला को उसके पति ने कोर्ट परिसर में ही जान से मारने की धमकी दी। इतना ही नहीं गुस्साए पति ने महिला के साथ मारपीट भी की। इस मामले में एमपी नगर थाना पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया है। इधर थाने पहुंची सामाजिक कार्यकर्ताओं ने पुलिस से हाईप्रोफाइल मामले में आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। महिला जसलीन ने शिकायत में बताया कि उसके पति पवनदीप छतवाल उसके साथ मारपीट करते थे। खुद पर अत्याचार तो वह सहती रही लेकिन जब पति बच्चों के साथ क्रूरता करने लगे तो उसने पति पवन से दूर रहने का फैसला किया। महिला का कहना है कि पति बार-बार बच्चों को नहाने के लिए फोर्स करते हैं। यदि बच्चे बात मानने से इनकार करते थे तो उनके साथ मारपीट करते थे।

हबीबगंज थाने में की घरेलू हिंसा का प्रकरण दर्ज है
एमपी नगर थाने में हुए बयान में जसलीन ने बताया कि उसकी शादी 2002 में हुई थी। उसकी 12 साल की बेटी और 8 साल का बेटा है। महिला ने बताया कि पति का स्वभाव काफी आक्रामक है, वह अक्सर उसके साथ मारपीट करते थे।

बच्चों को बार-बार नहाने के लिए बोलता था पति
महिला ने बताया कि बच्चे जितनी बार भी वाशरूम इस्तेमाल करते थे पति उनको नहाने के लिए कहता था। कई बार बच्चे नहाने के लिए इनकार करते थे तो वह उन्हें रसोईघर में नहला देते थे। मेरी बेटी अब 12 साल की हो गई है, वह नहीं चाहती कि पापा उसे नहलाए इसलिए उसने इसका विरोध किया। इससे नाराज होकर पति ने उसके साथ भी मारपीट। 

कोर्ट के आदेश के बाद भी भरण पोषण नहीं दे रहा था
पति अक्सर हम तीनों के साथ मारपीट करते थे, इसलिए साल 2016 में मैंने उनका घर छोड़ दिया और दिल्ली में अपने पिता हरजिंदर सिंह के घर शिफ्ट हो गई। अलग होने के बाद मैंने प्रताड़ना और घरेलू हिंसा की शिकायत हबीबगंज थाने में की थी। घरेलू हिंसा व भरण-पोषण का प्रकरण कोर्ट में चल रहा है। शुक्रवार को उस केस की सुनवाई थी, सुनवाई के बाद उन्होंने कोर्ट परिसर में मेरे साथ मारपीट की। कोर्ट ने भरण-पोषण के लिए जो रकम तय की थी, वह पति नहीं दे रहा था। इसलिए महिला कोर्ट की अवमानना के संबंध में शिकायत करने आई थी। source

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week