WHATSAPP के हर ग्रुप में एक पुलिस अधिकारी एड करना होगा

Sunday, July 16, 2017

भोपाल। मध्य प्रदेश के बुरहानपुर में वाट्सएप के जरिए भड़काऊ मैसेज पर लगाम लगाने के लिए पुलिस ने अनौखी शुरूआत की है। पुलिस विभाग ने एक ऐसा फैसला लिया है जिससे वाट्सएप ग्रुप के जरिए साम्प्रदायिक तनाव की संभावना लगभग शून्य हो जाएगी। इस फैसले के तहत हर पुलिस अफसर अपने क्षेत्र के हर वाट्सएप ग्रुप में एड होगा। जिसके जरिए पुलिस अफसर-जवान उन ग्रुपों के हर शख्स के स्टेटस की मॉनिटरिंग करेंगे। जिसके बाद संदिग्धों के खिलाफ तुरंत धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। 

इस पहल के तहत पुलिस वाहन चालकों को रोककर उनके वाहन जांच के साथ वाट्सएप की भी जांच कर रही है। क्योंकि 2008 में बुरहानपुर में वाट्सएप के कारण तनाव फैल चुका है। पुलिस के इस पहल के लिए इंदौर में एडीजी संभाग के पुलिस अधीक्षकों को बुलाकर बैठक की गई। जिसमे सांप्रदायिक सौहार्द के लिए सोशल मीडिया पर नजर रखने के आदेश दिए गए और वाट्सएप ग्रुप पर गंभीरता से नजर रखने के लिए नई नीति तैयार की हैं। 

इस बैठक में आने वाले त्यौहार और 2018 के विधानसभा चुनाव के मद्देनजर पुलिस की ये तैयारी बड़ी मानी जा रही है। बैठक के बाद सीएसपी बीपीएस परिहार ने बताया कि पुलिस अब आपत्तिजनक मैसेज या फोटो अपलोड करने से लेकर फारवर्ड करने वाले हर ग्रुप सदस्य पर कार्रवाई करेंगे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week