GWALIOR में पुलिस इंफार्मर की गर्दन काटी, पेट चीरा, आतें बाहर निकाल दीं

Tuesday, July 25, 2017

सर्वेश त्यागी/ग्वालियर। यहां एक पुलिस मुखबिर की निमर्म हत्या का मामला सामने आया है। बदमाशों ने पुलिस इंफार्मर का केवल मर्डर नहीं किया बल्कि उसे तड़पा तड़पाकर मारा है। संडे रात हुई इस घटना में बदमाशों ने पुलिस इंफार्मर का फनर से पेट चीर डाला। उसकी आतें बाहर निकल आईं। फिर गर्दन काटकर उसकी हत्या कर दी। हत्यारों ने शव को दुर्गा कॉलोनी हजीरा के पास ट्रक के नीचे छोड़ दिया। करीब रात 2:20 बजे मोहल्ले वालों ने लाश देखी तो पुलिस को सूचना दी गई। यह हत्याकांड ग्वालियर पुलिस के सामने सीधी चुनौती के रूप में आ खड़ा हुआ है। 

पुलिस के अनुसार रविवार की रात प्रशांत 25 वर्ष पुत्र जोगेंद्र सिंह राजावत निवासी इंद्रा नगर की अज्ञात हत्यारों ने नृशंस हत्या कर दी। उसका पेट और गर्दन काट डाले गए। शव दुर्गा कॉलोनी में दीवान की पत्थर फड़ के सामने ट्रक क्रमांक यूपी 80 बीटी 7992 के नीचे पड़ा मिला। करीब 10 कदम दूरी पर बाइक एमपी 07 एम एक्स 5772 लावारिस पड़ी मिली। जिसमे चाबी भी लगी थी। पुलिस का कहना है कि हत्यारों ने प्रशांत की कहीं और हत्या की तथा शव को यहाँ शिफ्ट कर दिया। पुलिस ने डॉग स्क्वायड की टीम को भी बुलाया। खोजी कुत्ता दुर्गा नगर से निकल कर यादव धर्मकांटा के सामने गुरुकृपा रेस्ट्रोरेंट पर जा रुका। पुलिस को शक है कि हत्यारों का यहीँ मूवमेंट रहा होगा या उसकी हत्या की गई होगी। शव को पूरे बस्ती ने देखा लेकिन किसी ने नहीं पहचान पाया। जब मृतक की तलाशी ली तो उसके जेब से एक मोबाईल फोन और कुछ पैसे मिले। उसके फ़ोन से कॉल करने पर उसकी पत्नी प्रीति को बुलाया जिसने शिनाख्त की। 

उसने कहा कि इनकी संगत ठीक नहीं थी। नशेड़ियों और अपराधियों से उसका बैठना था। उसने कहा कि रात को करीब 10 बजे प्रशांत का दोस्त मोनू तोमर उसे ले गया था। उसके बाद प्रशांत नहीं लौटा। प्रीति को लेकर उसके घर में विवाद है। प्रशांत के घर वाले उसे बहू मानने से इंकार करते हैं। गौरतलब है कि प्रशांत भी एक अपराधी किस्म का व्यक्ति है। उस पर लूट चोरी और मारपीट के लगभग 7 केस दर्ज हैं। इन मामलों में पुलिस की रहमदिली प्राप्त करने के लिए वह पुलिस का मुखबिर बन गया होगा। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं