FSSAI मोबाइल APP यहां से DOWNLOAD करें, मिलावटी सामान की शिकायत करें

Monday, July 24, 2017

भोपाल। खाद्य पदार्थों में मिलावट या गंदगी की शिकायत अब मोबाइल एप पर की जा सकेगी। फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एफएसएसएआई) ने यह एप जारी किया है। इसे एंड्रॉयड फोन पर डाउनलोड किया जा सकेगा। 23 अगस्त से मोबाइल एप पर आने वाली शिकायतों पर कार्रवाई होने लगेगी। इसी के साथ एफएसएसएआई ने शिकायत के लिए वॉट्सएप नंबर 09868686868 भी जारी किया है। कंज्यूमर ग्रीवेंस दूर करने के लिए बने इस एप को 'एफएसएसएआई एप' नाम दिया गया है। इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। 

इस पर पैकेज्ड फूड और होटल रेस्टोरेंट में परोसे जाने वाले 'रेडी टू ईट फूड' की शिकायतें की जा सकेंगी। यह शिकायतें सीधे एफएसएसएआई के पास पहुंचेंगी। वहां से ये राज्यों के खाद्य एवं औषधि प्रशासन के पास आएंगी। यहां से कार्रवाई की एक रिपोर्ट एफएसएसएआई को दी जाएगी। साथ ही शिकायत करने वाले उपभोक्ता को फीडबैक भी दिया जाएगा। खाद्य एवं औषधि प्रशासन के संयुक्त नियंत्रक प्रमोद शुक्ला का कहना है कि मोबाइल एप्लीकेशन अभी डाउनलोड की जा सकती है, लेकिन यह 23 अगस्त से काम करना शुरू करेगी। इस तरह वॉट्सएप नंबर भी जल्द ही काम करने लगेगा।

विक्रेता के बारे में होगी जानकारी
खाद्य पदार्थ बेचने वालों को अपने प्रतिष्ठानों पर एक बोर्ड लगाना होगा। जिस पर एप और शिकायती वॉट्सएप नंबर की जानकारी देना होगी। उन्हें अपना खाद्य लाइसेंस नंबर भी बताना होगा। जब उपभोक्ता मोबाइल एप्लीकेशन पर विक्रेता का फूड लाइसेंस नंबर डालेगा तो उससे संबंधित सारी जानकारी उसे एप पर मिल जाएगी। उस विक्रेता के खिलाफ पहले कितनी शिकायतें हुई हैं और क्या कार्रवाई की गई है, इसकी जानकारी कंज्यूमर को मिल जाएगी।

पैरामीटर जानकारी भी मिलेगी
एफएसएसएआई ने यह एप खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के सही ढंग से पालन करने के लिए जारी की है। इस पर उपभोक्ताओं को उन पैरामीटर की भी जानकारी मिलेगी, जिनके पालन नहीं करने पर खाद्य पदार्थों को सब स्टैंडर्ड या मिलावटी घोषित किया जाता है। खाद्य पदार्थों में साफ-सफाई बनाए रखने और अन्य जरूरी जानकारी भी एप पर उपलब्ध रहेगी।
अपने मोबाइल में उपभोक्ता एफएसएसएआई एप इंस्टाल करने के लिए यहां क्लिक करें

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं