श्योपुर में महिला बाल विकास का बाबू, करोड़ों का आसामी

Thursday, July 13, 2017

SHEOPUR : महिला बाल विकास विभाग के एक बाबू के घर गुरुवार की अल सुबह लोकायुक्त पुलिस ने छापा मार दिया। यह कार्यवाई आय से अधिक संपत्ति जुटाने पर की गई है। शुरुआती जांच में डेढ़ करोड़ रुपए की संपत्ति का खुलासा हुआ है। अरविंद जैन महिला एवं बाल विकास विभाग में क्लर्क हैं और लंबे समय से श्योपुर जिले में पदस्थ हैं। कुछ महीने पहले लोकायुक्त में यह मामला सामने आया था कि जैन ने अनाधिकृत तरीके से संपत्ति अर्जित की है। जांच में यह मामला सही पाया गया।

इसके चलते ग्वालियर की लोकायुक्त पुलिस के अफसरों ने गुरुवार को तड़के श्योपुर में क्लर्क जैन के घर में छापामार कार्रवाई कर दी। अफसर सीधे जैन के केशव नगर स्थित मकान में सुबह 6 बजे पहुंचे। लोकायुक्त टीम ने जैन के घर का दरवाजा खटखटाया। जैसे ही जैन ने दरवाजा खोला तो अफसरों ने कहा, हम लोकायुक्त से हैं। यह सुनकर जैन के होश फाख्ता हो गए। इस बीच लोकायुक्त अफसर घर के अंदर घुस चुके थे।

अफसरों ने पूरे घर का कोना-कोना छानकर दस्तावेज, ज्वैलरी सहित सभी सामान निकाल लिए और लिस्ट बनानी शुरू कर दी। अभी श्योपुर में कार्रवाई चल रही है। शुरुआती दौर में करीब डेढ़ करोड़ रुपए की संपत्ति का खुलासा हुआ है। इसमें एक मकान भी शामिल है।

लोकायुक्त के पास 2013 से जैन के खिलाफ शिकायतें थीं। अरविंद जैन हर आंगनबाड़ी केन्द्र से रकम लेता था। इसके साथ पोषण आहार से लेकर हर कर्मचारी से रुपए वसूले जाते थे। इन्हीं शिकायतों पर जांच की और गुरुवार को लोकायुक्त पुलिस की 10 सदस्यीय टीम ने छापा मार दिया।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week