सरकारी गोदामों में रखे-रखे सड़ गया गरीबों का चावल, जांच दल ने नमूने लिए

Thursday, July 13, 2017

आनंद ताम्रकार/बालाघाट। केन्द्रिय शासन के खादय विभाग के भोपाल स्थित वरिष्ट अधिकारियों का एक जांच दल कल बालाघाट पंहुचा और कस्टम मिलिंग के माध्यम से नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा खरीदा गया चावल जिसे भारतीय खादय निगम के कोसमी, नवेंगांव के गोदामों की जांच की और चावल के नमूने जांच के लिये एकत्र किये। जाचं दल में एजीएम ओरीलाल, टेक्नीकल डायरेक्टर वी पी सिंग शामिल है जांच के दौरान नान के जिला प्रबंधक श्री तोमर और खादय निगम बालाघाट के आर के पटले भी थे।

जांच दल ने कोसमी गोदाम में रखे 36 स्टेग जो 15 व्यापारियों द्वारा रखे गये है जिसमें लगभग 4.5 हजार क्विंटल चावल रखा गया है। रखरखाव के दौरान उचित प्रबंध ना किये जाने और आवश्यक औषधी उपचार ना किये जाने से चावल में कीडे लगना शुरू हो गये है। इस चावल की सेम्पलिंग की गई है।

जांच के दौरान गोदाम प्रबंधक आर के पाटिल को फटकार लगाते हुये कहा की गोदाम में रखा 4.5 हजार क्विंटल चालव कीडे लगाने से खराब होने की स्थिति में इसकी सुरक्षा के लिये आवश्यक उपाय ना किये जाने पर उन्होने नाराजगी जाहिर की करते हुये कहा की केवल बैग पकडकर ही धूमते रहते हो मैनेजर साहब करते क्या हो कर दिया ना चावल का सत्यानाश।

यह उल्लेखनीय है कि जांच टीम के आने की खबर लगने पर खादय निगम के अधिकारियों ने हडबडी में चावल के स्टेग पर आवश्यक मात्रा से अधिक दवा का छिडकावों कर दिया। गोदाम में चावल की मात्रा से सबंधित दस्तावेज मांगे जाने पर उपलब्ध नही हुये। अतिरिक्त क्षेत्रीय निर्देशक भोपाल के श्री होरीलाल ने अवगत कराया की बालाघाट जिले के चावल गोदाम का निरीक्षण कर उसके रखरखाव और गुणवत्ता की जांच के लिये सेंपल लिये जायेगें तथा गोदामों में चांवल के रखरखाव के लिये आवश्यक सुरक्षा प्रबधं किये जाने के भी निर्देश दिये गये है।

चावल खरीदी दौरान निर्धारित मापदण्ड से अधिक ब्रोकन मिला हुआ चावल खरीदने तथा अशोकनगर भेजी गई रैक के चावल को रिजेक्ट कर दिये जाने के बाद बालाघाट जिले में चावल की खरीदी पर प्रश्नचिन्ह लगते जा रहे है। इन विसंगतियों के चलते कटंगी के गोदामों में 15 करोड रूपये का 50 हजार क्विंटल चांवल सड चुका है जो खाने के काबिल नही रहा है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week