मोदी के मंत्री ने खेलों में मांगा 25% आरक्षण

Saturday, July 1, 2017

नागपुर। यूनियन मिनिस्टर रामदास अठावले ने 18 जून को लंदन में ICC चैंपियंस ट्रॉफी में भारत की हार को फिक्स बताते हुए मांग की कि क्रिकेट एवं दूसरे खेलों में दलित आदिवासियों को 25 प्रतिशत आरक्षण दिया जाना चाहिए। अठावले के मुताबिक- टीम इंडिया में दलित और ट्राइबल कम्युनिटी के प्लेयर्स को शामिल करना चाहिए। अठावले सोशल जस्टिस एंड एम्पॉवरमेंट मिनिस्ट्री में राज्यमंत्री हैं। शनिवार को वो नागपुर में एक प्रोग्राम में शिरकत के बाद मीडिया से बातचीत कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल फिक्स होने का आरोप लगाया। 

अठावले ने कहा- इस हार की जांच होनी चाहिए। पूरी चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान टीम इंडिया ने बेहतरीन खेल दिखाया लेकिन फाइनल में आकर वो पाकिस्तान के हाथों बुरी हार का शिकार बन गई। बता दें कि लीग राउंड में भारत ने पाकिस्तान को 124 रन से हराया था। अठावले आरपीआई पार्टी के नेता हैं।

25% आरक्षण मिले
अठावले ने कहा- जिन प्लेयर्स ने परफॉर्म नहीं किया, उन्हें आराम दिया जाना चाहिए और दलित कम्युनिटी के जो काबिल क्रिकेटर हैं, उन्हें टीम में शामिल किया जाना चाहिए। हमारी पार्टी मांग करती है कि क्रिकेट और बाकी खेलों में दलित और ट्राइबल कम्युनिटी के प्लेयर्स के लिए 25% आरक्षण हो। गौरक्षा के नाम पर हुई हिंसा के बारे में पूछे गए एक सवाल पर मंत्री ने कहा- गौ रक्षा के नाम पर हिंसा गलत है। जो लोग भी ये कर रहे हैं वो गौ रक्षक नहीं ‘मानव भक्षक’ हैं। इन लोगों को कानून अपने हाथ में नहीं लेना चाहिए। 

अठावले ने कहा- गौ रक्षा के नाम पर लोगों को मारने वालों के खिलाफ पुलिस को सख्त एक्शन लेना चाहिए। अठावले ने जीएसटी को एक क्रांतिकारी कानून बताया। कहा- कांग्रेस समेत बाकी सभी पार्टियों ने इसका समर्थन किया है। लेकिन कांग्रेस इसके प्रोग्राम में शामिल नहीं हुई। जीएसटी से देश के विकास को रफ्तार मिलेगी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week