शिवराज के उपवास का जवाब देने इंडिया लौट रहे हैं सिंधिया

Saturday, June 10, 2017

शैलेन्द्र गुप्ता/भोपाल। मप्र के किसान आंदोलन पर राहुल गांधी की रणनीति ने काम करना शुरू कर दिया है। 10 जून को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उपवास पर बैठकर सारी सुर्खियां बटोर लीं तो आंदोलन की तीव्रता को बनाए रखने और शिवराज सिंह जैसे मास लीडर का मुकाबला करने के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया को भेजा जा रहा है। वो मंदसौर और इंदौर में किसानों से मिलेंगे और भोपाल में शिवराज के सामने 'सत्याग्रह' शुरू करेंगे। फिलहाल वो विदेश में अपने बेटे का इलाज करा रहे हैं। उन्हे 20 जून को वापस लौटना था परंतु राहुल गांधी से बात होने के बाद अब वो संडे 11 जून को ही दिल्ली आने वाले हैं। 

बता दें कि मंगलवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया उस वक्त विदेश यात्रा पर रवाना हो गए थे जब मंदसौर में किसान पुलिस फायरिंग में मारे जा रहे थे। इसके बाद सिंधिया को काफी ट्रॉल किया गया परंतु बताया जा रहा है कि सिंधिया अपने बेटे का इलाज कराने के लिए गए थे एवं यात्रा अधूरी छोड़कर वापस आ रहे हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रतिनिधि कृष्णा घाडगे ने बताया है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया अपनी पत्नी और बेटे के साथ बेटे के इलाज के लिए विदेश गए थे और 20 जून को लौटने वाले थे। लेकिन मंदसौर घटना की जानकारी मिलते ही वो पत्नी और बेटे को विदेश में ही छोड़कर रविवार सुबह 11 जून को दिल्ली पहुंच जाएंगे। दिल्ली से ज्योतिरादित्य सिंधिया इंदौर पहुंचेंगे और 12 जून को इंदौर में किसानों से मुलाकात करने के अलावा प्रेसवार्ता करेंगे। वहीं 13 जून को ज्योतिरादित्य सिंधिया मंदसौर पहुंचकर गोलीकांड में मृतक परिवारों से मुलाकात करेंगे। 

इंदौर और मंदसौर का दौरा करने के बाद सिंधिया 13 जून की शाम को भोपाल पहुंच जाएंगे और 14 जून से सत्याग्रह आरंभ करेंगे। फिलहाल ज्योतिरादित्य सिंधिया कहां सत्याग्रह करेंगे। इसका स्थान अभी तय नहीं हुआ है। लेकिन बताया जा रहा है कि ये सत्याग्रह 72 घंटे का होगा। इससे पहले हाईकमान ने प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव, नेताप्रतिपक्ष राहुल सिंह और दावेदार कमलनाथ को अवसर दिया था परंतु वो कुछ खास नहीं कर पाए। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं