गुटबाजी खत्म: गोविंद सिंह के मंच पर सारे दिग्गज दिखाई देंगे

Wednesday, June 28, 2017

भोपाल। किसान आंदोलन शिवराज सिंह सरकार के लिए बहुत महंगा पड़ता जा रहा है। ​प्रदर्शनकारी किसानों को असामाजिक तत्व कहकर जहां भाजपा लोगों की नाराजगी का शिकार बनी वहीं मंदसौर गोली कांड ने आग में घी डाल दिया। इधर मप्र कांग्रेस में अब उत्साह का माहौल है। किसान आंदोलन ने पूरी कांग्रेस को एकजुट कर दिया। हालात यह हैं कि दशकों से सिंधिया का खुला विरोध करते आ रहे विधायक गोविंद सिंह भी अब गुट नहीं, संगठन के लिए काम करते दिखाई दे रहे हैं। सिंधिया के साथ कदम ताल मिलाते हुए वो बार बार एकजुटता का संदेश दे रहे हैं। गोविंद सिंह ने भोपाल समाचार से बात करते हुए दावा किया 10 जुलाई को लहार में होने जा रही किसान महापंचायत में कांग्रेस के सारे दिग्गज दिखाई देंगे। गोविंद सिंह ने बताया कि लहार की पंचायत में 1 लाख किसान और कार्यकर्ता जुटेंगे। यह एतिहासिक कार्यक्रम होगा। 

सिंधिया और गोविंद सिंह की दोस्ती को कांग्रेस खेमे में बड़ी उपलब्धि के रूप में देखा जा रहा है।सिंधिया और डॉ. गोविंद सिंह का मनमुटाव ग्वालियर-चम्बल की राजनीति में बरसों से चला आ रहा है। दोनों नेताओं ने कई वर्षों तक मंच साझा नहीं किया था। हाल ही में हुए अटेर चुनाव में दोनों नेता करीब आना शुरू हुए। यहां की सभाओं में दोनों नेता एक मंच पर दिखाई दिए। इसके बाद दूसरा मौका सिंधिया के भोपाल में हुए सत्याग्रह में दिखाई दिया। इसमें दो दिन तक डॉ. गोविंद सिंह इसमें प्रमुखता के साथ मौजूद रहे। 

इसके बाद किसान के मुद्दे को आगे बढ़ाने के लिए दोनों ने मिलकर चम्बल-ग्वालियर में कांग्रेस का मेगा शो करने का प्लान बनाया। इसमें 10 जुलाई को डॉ. गोविंद सिंह के विधानसभा क्षेत्र लहार में किसान पंचायत का आयोजन किया जाना तय हुआ। इसमें सिंधिया तो शामिल होंगे ही, साथ ही पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा, प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव, नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह भी आने वाले हैं। 

सब अपने खर्चे पर आ रहे हैं
गोविंद सिंह ने भोपाल समाचार से बात करते हुए जोड़ा कि इस आयोजन में किसी को पेट्रोल/डीजल तक का खर्चा नहीं दिया जा रहा है। यहां तक कि कार्यक्रम स्थल पर भोजन के इंतजाम भी नहीं हैं। लोग आक्रोशित हैं और शिवराज सिंह सरकार को ललकारने के लिए अपने खर्चे पर आएंगे। उन्होंने बताया कि मंत्री लाल सिंह आर्य के इलाके से 55 बसें भरकर आ रहीं हैं। इसके अलावा जो लोग अपने निजी वाहनों से आएंगे, उनकी संख्या सूचीबद्ध नहीं की गई है। बता दें कि सीएम शिवराज सिंह के कार्यक्रमों में जाने के लिए सरकार की ओर से पैसे बांटे जाते हैं। श्रोताओं को आने जाने का खर्चा दिया जाता है। आरटीओ की तरफ से मुफ्त बस सुविधाएं उपलब्ध कराई जातीं हैं। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week