CT17: रोहित, विराट और जडेजा ने भारत को शर्मनाक हार की तरफ धकेला

Sunday, June 18, 2017

स्पोर्ट्स डेस्क/भोपाल समाचार। इसमें कोई 2 राय नहीं कि CHAMPIONS TROPHY 2017 में पाकिस्तान का प्रदर्शन काफी अच्छा चल रहा था। इतना अच्छा कि सेमीफाइनल में उनकी जीत पाकिस्तान के क्रिकेट विशेषज्ञ भी नहीं पचा पाए थे परंतु भारत का प्रदर्शन भी कमजोर नहीं था। सारी दुनिया के क्रिक पंडितों का ऐलान था कि चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल इंडिया ही जीतेगी। सट्टा बाजार भी यही बता रहा था परंतु मैच शुरूआत से ही इंडिया के हाथ से जाता रहा। इस मैच की हार का कांटों भरा ताज यदि किसी के सिर पर बांधना हो तो वो सिर्फ तीन ही नाम हो सकते हैं, रोहित शर्मा, विराट कोहली और रविन्द्र जडेजा। रोहित और विराट के खराब प्रदर्शन और जडेजा की बेवकूफी के कारण इंडिया को शर्मनाक हार का सामना करना पड़ रहा है। 

शुरूआत के 7 ओवरों में भारत को बड़ा नुक्सान हुआ। रोहित शर्मा शून्य पर आउट हुए वहीं कप्तान विराट कोहली 5 रन बनाकर पवेलियन चले गए। दोनों से इस तरह के बकवास प्रदर्शन की उम्मीद नहीं थी। इसी के साथ भारतीय क्रिकेट टीम के फैंस का गुस्सा फूट पड़ा। किसी ने विराट की कप्तानी पर सवाल उठा दिए तो किसी ने फनी मीम्स करते हुए दोनों प्लेयर्स की खराब परफॉर्मेंस पर चुटकी ली। 

रोहित शर्मा के आउट होने के बाद विराट कोहली क्रीज पर आए। लोगों को उम्मीद थी कि अब भारतीय पारी संभल जाएगी, लेकिन कप्तान कोहली के आउट होने के बाद लोगों की उम्मीद टूट गई। @piyushkaul हेंडल से लिखा गया 'आज शर्मा जी के लड़के और दामाद, दोनो ने एक साथ धोका दे दिया' 

मैच हाथ से निकल चुका था परंतु अंत तक किसी चमत्कार की उम्मीद भी थी। हार्दिक पांड्या के बैट ने जब रन उगलना शुरू किए तो एक बार फिर लोग एकटक मैच की तरफ देखने लगे। पांड्या की 50 होते ही उम्मीदें जाग गईं थीं। हर कोई गारंटी दे रहा था कि पांड्या 100 बनाएगा और इस मैच का हीरो पांड्या ही होगा। लोग उसके अंदर एक महान बल्लेबाज को देख रहे थे कि तभी रविन्द्र जडेजा ने जो कुछ किया वो गली मोहल्ला क्रिकेट खिलाड़ियों जैसा था। जडेजा रन बनाने के लिए भागे परंतु 4 कदम बाद वापस लौट गए। पांड्या आधी पिच पार कर चुके थे। दोनों समझ गए थे कि किसी एक का आउट होना पक्का है। ऐसे में टीम भावना कहती है कि कमजोर प्रदर्शन कर रहा खिलाड़ी अपना विकेट देगा लेकिन जडेजा ने ऐसा नहीं किया बल्कि तेजी से क्रीज को लपक कर पांड्या का विकेट फिक्स कर दिया। फाइनल में टीम इंडिया के लिए इससे शर्मनाक क्षण कोई नहीं हो सकता। इसी के साथ इंडिया की हार सुनिश्चित हुई और महज 10 मिनट के भीतर पूरी टीम सिमट गई। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week