मंदसौर किसान हत्याकांड: दोषियों को सजा पर चुप रह गए CM शिवराज सिंह

Thursday, June 15, 2017

नीमच/मंदसौर/इंदौर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधवार को पुलिस फायरिंग के आठ दिन बाद मंदसौर पहुंचे। उन्होंने मारे गए 6 किसानों के परिजनों से मुलाकात की। पुलिस फायरिंग में मारे गए लोध गांव में सत्यनारायण के पिता मांगीलाल को कर्जमाफी और बेटे को सरकारी नौकरी का भरोसा दिया। कहा- एक करोड़ रुपए जल्द खाते में आएंगे। इस पर मांगीलाल ने कहा, रुपए तो मिलते रहेंगे। बेटे की हत्या के दोषियों को सजा कब मिलेगी। आप तो सजा दो। सीएम ने यहां दुकानों और शोरूम के नुकसान का भी जायजा लिया।

मंदसौर में चौहान मृतकों के परिजनों के साथ 5 से 11 मिनट रहे, साढ़े सात घंटे तक घूमे
सीएम शिवराज सिंह चौहान बुधवार को पुलिस फायरिंग के आठ दिन बाद मंदसौर पहुंचे। यहां बड़वन गांव में मृतक घनश्याम धाकड़ के पिता और पत्नी रेखा को सांत्वना दी। रेखा ने सीएम से कहा, आप प्रदेश के सीएम हो। किसी को गोली चलाने का आदेश कैसे दिया जा सकता है। उनको सजा मिलनी चाहिए। इस पर शिवराज उसके सिर पर हाथ रखा, बोले- कार्रवाई जरूर होगी। शिवराज नीमच के एक और मंदसौर के पांच गांवों में गए। वे पौन घंटे देरी से मंदसौर पहुंचे थे। वे सभी किसानों के परिजनों के साथ दो से 11 मिनट ही रहे। हालांकि चौहान करीब साढ़े सात घंटे इन इलाकों में घूमे।

12 दुकानों-शोरूम पर गए, नुकसान देखा
स्टेट प्लेन से मंदसौर पहुंचने के बाद सीएम सबसे पहले दलौदा के समीप ग्राम बड़वन पहुंचे। यहां मृत किसान घनश्याम धाकड़ के घर गए। इसके बाद कार से ग्राम लोध में मृतक सत्यनारायण गायरी के घर पहुंचे। दोपहर करीब 1 बजे लोध से हेलिकॉप्टर में सवार होकर नीमच जिले के नयाखेड़ा में मृतक चेनराम पाटीदार के निवास गए। इसके बाद पिपल्यामंडी आए और कार से चिल्लोद पिपलिया में अभिषेक पाटीदार के घर गए। पिपलियामंडी पहुंच सीधे किसान आंदोलन के दौरान जलाई गईं दुकानों व घरों को देखा। यहां व्यापारियों के रोते-बिलखते बच्चों के सिर पर हाथ फेरा और व्यापारियों की शिकायत सुनी। उन्हें नुकसान की भरपाई करने का आश्वासन देते हुए व्यापार फिर से शुरू करने का आग्रह किया। सीएम जैसे ही बाजार रोड स्थित व्यापारी विष्णुप्रसाद जैन के दो मंजिला मकान जैन ट्रेडर्स पहुंचे, जैन की बेटियां माेना (7) व साक्षी (10) मामा-मामा कहते हुए उनके पास पहुंच गईं। बोलीं- मामाजी, उन लोगों ने हमारी दुकान और गोदाम को जला डाला।’ पुलिस फायरिंग में मारे सभी 6 लोगों के परिजन के लिए सरकार ने 1-1 करोड़ रुपए देने की घोषणा की है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week