CM शिवराज सिंह का उपवास शुरू, बातचीत के लिए किसान नहीं आए

Saturday, June 10, 2017

भोपाल। मप्र के किसान आंदोलन के दौरान हो रही हिंसा के खिलाफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का अनिश्चितकालीन उपवास शुरू हो गया है। दशहरा मैदान में इसके लिए लंबा-चौड़ा वाटर प्रूफ पंडाल लगाया गया है। सीएमओ के अधिकारी लगातार इस बात का ध्यान रख रहे हैं कि व्यवस्थाओं में कहीं कोई चूक ना हो जाए। सीएम ने बातचीत के लिए किसानों को आमंत्रित किया है परंतु अभी तक किसी प्रकार की बातचीत का सिलसिला शुरू नहीं हो पाया है। संभव है शाम तक कोई अच्छी खबर आए। शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा कि उनका अनशन हिंसा के खिलाफ है। मध्य प्रदेश की सरकार किसानों के हक में काम करती रहेगी। शिवराज सिंह ने किसानों ने आह्वान किया कि बातचीत के जरिए मामले का समाधान किया जा सकता है। सरकार बातचीत के लिए हमेशा तैयार है। हिंसा से किसी मामले का समाधान नहीं हो सकता।

सीएम शिवराज सिंह के लिए मैदान पर एक मंच तैयार किया गया है जहां वह अनशन पर बैंठेंगे। स्थानीय बीजेपी नेता ने बताया कि यहीं पर बैठने के दौरान सीएम, किसानों के अलावा अन्य लोगों के साथ बातचीत भी करेंगे ताकि स्थिति को काबू में किया जा सके। इसके अलावा मंच के पास ही सीएम के आराम करने और कैबिनेट बैठक के लिए व्यवस्था की जा रही है।

किसानों का जेल भरो आंदोलन
सरकार के रुख से नाराज किसानों ने जेल भरो आंदोलन करने का ऐलान भी किया है। साथ ही किसान गांव-गांव जाकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी करेंगे। राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ, आम किसान यूनियन, भारतीय किसान यूनियन सहित अन्य संगठनों के नेताओं ने संयुक्त रुप से इस बात की जानकारी दी है। किसान संगठनों ने मंदसौर की घटना के लिए राज्य की बीजेपी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।

RAF की 2 और टुकड़ियों तैनात 
पुलिस ने किसान आंदोलन को लेकर कांग्रेस के 18 नेताओं के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। शुक्रवार को मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन के दौरान 4 जगहों से हिंसा की खबरें सामने आईं, वहीं हालात को काबू में करने के लिए RAF की 2 और टुकड़ियों को मध्य प्रदेश भेजा गया है।

पुलिस फायरिंग के बाद भड़की हिंसा
दरअसल मंदसौर जिले में किसान आंदोलन के दौरान मंगलवार को पुलिस फायरिंग में 6 किसानों के मारे जाने के बाद पश्चिमी मध्य प्रदेश में भड़की हिंसा और आगजनी के बीच विपक्ष मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को घेरने में जुटा है. जबकि शिवराज लगातार शांति बनाये रखने की अपील कर रहे हैं. शिवराज ने कहा कि सरकार किसानों की समस्याओं के समाधान से लिए उनसे बातचीत करने के लिये हमेशा तैयार है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं