लड़कियों को तंग कर करता था, भीड़ ने हाथ पैर काट डाले, तड़पते हुए मर गया

Friday, June 9, 2017

बठिंडा। यहां लवंडी साबो और आसपास के इलाकों में नशा सप्लाई करने वाले युवक का गांववालों ने हाथ-पैर काटकर कत्ल कर दिया। इससे पहले युवक को दौड़ाकर बुरी तरह पीटा था। पंजाब में इस तरह का पहला मामला सामने आया है जब नशा सप्लायर काे सरेआम मौत दी गई हो। गांव वालों का कहना है कि मृतक लड़कियों को अश्लील इशारे कर परेशान भी करता था।

इलाके में युवक के चिट्टा बेचने से भागीवांदर गांव के लोग इतने गुस्से में थे कि वारदात के बाद भी वहीं रहे। एक घंटे बहस के बाद पुलिस युवक को अस्पताल ले जा पाई। इसके बाद भीड़ अस्पताल पहुंच गई, जहां 3 घंटे उसकी एंबुलेंस को रोके रखा। काफी मशक्कत के बाद पुलिस युवक को फरीदकोट मेडिकल कॉलेज ले गई, जहां युवक ने देर शाम दम तोड़ दिया। पुलिस ने युवक के बयानों के आधार पर भागीवांदर की सरपंच का बेटा राजू सिंह, गुरसेवक बड्डा सिंह समेत कई लोगों पर कत्ल का केस दर्ज कर लिया है।
- किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस ने बताया कि युवक पर नशा तस्करी के 5 केस दर्ज हैं और जेल भी जा चुका था। गांववालों ने घटना का वीडियो भी बनाया है।

रिवाॅल्वर, रॉड और गंडासे लेकर घेर लिया...
22 साल का विनोद 8 जून की सुबह तलवंडी साबो से अपने घर गांव लेलेवाला जा रहा था। जैसे ही वह लिंक रोड से गांव की ओर मुड़ा, ट्रैक्टर-ट्राॅली स्कार्पियों गाड़ी में सवार गांववालों ने उसे घेर लिया। इनके पास रिवाॅल्वर, रॉड, नलके की हत्थियां और गंडासे आदि थे। यह देखकर विनोद बाइक से घर की ओर भागने लगा। जैसे ही वह घर के बाहर पहुंचा तो लोगों ने उसे दबोच लिया। हमलावरों ने उसे स्कॉर्पियो में डाला और गांव भागीवांदर ले गए। जहां बीच सड़क गांववालों ने तेजधार हथियारों से विनोद के दोनों पैर और एक हाथ काट दिए। ताबड़तोड़ हमले से हाथ कटकर लटक गया।

विनोद के खून से लथपथ बुरी हालत में तड़पने के बावजूद किसी भी ग्रामीण ने उसकी मदद नहीं की। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची लेकिन ग्रामीणों ने विनोद पर गांव में चिट्टा बेचने के आरोप लगाते हुए उसे अस्पताल नहीं ले जाने दिया। एक घंटे की कड़ी जद्दोजहद के बाद पुलिस विनोद को सरकारी अस्पताल ले जा पाई। इसपर भी लोग शांत नहीं हुए।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week