किसानों के लिए कारखाना खुलना था, शिवराज ने कत्लखाना खोल दिया: जीतू पटवारी

Saturday, June 17, 2017

भोपाल। मंदसौर पुलिस फायरिंग में किसानों की मौत का मामला शिवराज सिंह सरकार का लगातार पीछा कर रहा है। देश भर से इस मामले में प्रतिक्रियाएं आ रहीं हैं। इस बीच इंदौर विधायक एवं कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव जीतू पटवारी ने एक बार फिर शिवराज सिंह पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि जिस प्रदेश में किसानों के लिए कारखाने खुलने थे, शिवराज सिंह सरकार ने कत्लखाना खोल दिया। पटवारी ने बताया कि पिछले 10 दिनों में 17 किसानों की मौत हो चुकी है। 7 सरकार की गोली से मर गए तो 10 सरकार की बेरुखी से। 

जीतू पटवारी ने ट्वीट करके के कहा है कि, मोदी जी आप किसी को कुछ समय के लिए मूर्ख बना सकते हैं पर हर किसी को हमेशा के लिए नहीं। अब किसान हितैषी वाला नकाब उतारो और जनता को जवाब दो। आवाज उठाने पर गिरफ्तारी होती है। पर अब तो सरकार विरोधी आवाजें चारों तरफ से आ रही है, पूरे मप्र को खुली जेल और जनता को कैदी घोषित करोगे?

एक अन्य ट्वीट में पटवारी ने कहा भाजपा गोबर और गौमूत्र में व्यस्त थी? खेत, खलिहान और किसान उपेक्षित होते रहे, मरते रहे पर अंधी-बहरी सरकार ना पीड़ा देख सकी, ना चीख सुन सकी। किसान नेताओं की गिरफ्तारी अघोषित आपातकाल है। अब बिगुल बज चुका शिवराज, गिरफ्तारी नहीं जाने की तैयारी करो, हां मामा, अब जाना ही होगा।

खेत की जगह रेत, कारखाने की जगह कत्लखाने और मयखाने, ये मप्र के शवराज का सारांश है, लोग मरते गए, कब्रिस्तान बनता गया। पर मोदी मौन ही रहे। उपवास की पावनता को भी शिवराज के पाखंड ने खंड-खंड किया है। जो उपवास में भी ढोंग करे वो कभी हिंदू नहीं हो सकता, आस्थाओं से मत खेलो शिवराज।

पटवारी का नया ट्वीट आया है कि 'चारो तरफ हाहाकार मचा है, किसान जान दे रहा है, घर-आंगन में लाशें पड़ी है, मानवता शर्मसार है और मोदी योग सिखा रहे हैं। ये योग नहीं रोग है। पिछले 10 दिनों में 17 किसानों की मौत, छह सरकार की गोलियों से और 10 बेरूखी से, किसानों के लिए कारखाना खुलवाना था और कत्लखाना खुलवा दिया?'

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week