हम दुम हिलाकर BJP का हुक्म का पालन नहीं करेंगे: दिग्विजय सिंह

Tuesday, June 20, 2017

नई दिल्ली। रामनाथ कोविंद का नाम आगे बढ़ाकर भाजपा ने ट्रंप चाल चली है। दलित व्यक्ति को देश की सबसे बड़ी कुर्सी तक पहुंचाने का विरोध यदि कोई करता है तो वो दलित विरोधी माना जाएगा। कोविंद को राष्ट्रपति बनाकर भाजपा दलित हितैषी पार्टी बन जाएगी परंतु दिग्विजय सिंह ने भाजपा के इस गणित को कमजोर करने की कोशिश की है। कानुपर में उन्होंने कहा कि 'हम दुम हिलाकर उनके हुक्म का पालन नहीं करेंगे, हम भी दलित नेताओं को आगे बढ़ाना चाहते हैं परंतु नाम का ऐलान करने से पहले बातचीत की जानी चाहिए थी।'

कांग्रेस के फायर ब्रांड नेता दिग्विजय ने रामनाथ कोविंद के नाम पर बीजेपी पर हमला बोलते हुए सोमवार को कहा कि बीजेपी के हुक्म का पालन कांग्रेस के लिए दुम हिलाकर करना संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने अपने राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस पार्टी या किसी अन्य दल से इस नाम की चर्चा तक नहीं की यहां तक कि शिवसेना से भी नहीं। कांग्रेस पार्टी राष्ट्रपति पद के लिए चर्चा कर अलग से रणनीति बनायेगी।

दिग्विजय सिंह ने आगे कहा कि कोविंद नाम पर बीजेपी ने शिवसेना को भी विश्वास में नहीं लिया है। बीजेपी का दलित कार्ड खेलने की रणनीति सफल नहीं होगी। देश को पहला दलित राष्ट्रपति देने का श्रेय पहले ही कांग्रेस के खाते में दर्ज है। आपको बता दें कि एनडीए द्वारा राष्ट्रपति पद के लिए घोषित किए गए रामनाथ कोविंद कानपुर की डेरापुर तहसील से आते है। वो सूबे की तीसरी बड़ी दलित जाति कोरी समाज से आते है। रामनाथ कोविंद मौजूदा समय में बिहार के राज्यपाल पद पर कार्यरत है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week