आरक्षण के खिलाफ BHOPAL की सड़कों पर उतरेंगे उच्च एवं पिछड़ा वर्ग समाजों के संगठन

Tuesday, June 6, 2017

भोपाल। पदोन्नति में आरक्षण का विरोध करने के लिए बना सपाक्स संगठन को अब सपाक्स से जुड़े समाज का भी समर्थन मिल गया है। 12 जून को राजधानी में आयोजित धिक्कार रैली में समाज के पदाधिकारी और उससे जुड़े लोग भी शामिल होंगे। विदित हो कि सपाक्स संगठन के गठन के समय इसमेें सामान्य, अन्य पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक समुदाय के ऐसे कर्मचारी और अधिकारी जुड़े जो हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में आरक्षण की लड़ाई लड़ रहे थे। उसके बाद सपाक्स के साथ सपाक्स समाज संस्था भी जुड़ गई जो अशासकीय व्यक्तियों की संस्था है। अब सपाक्स के साथ समाज के लोग भी जुड़ने लगे है। 

पदोन्नति में आरक्षण के विरोध में 12 जून को आयोजित होने वाली धिक्कार रैली से पूर्व आज मंगलवार को आयोजित एक आपाक बैठक में राष्ट्रीय ब्राह्मण महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष डा. अरुण कुमार तिवारी, जिला अध्यक्ष श्याम मिश्रा, राजपूत समाज के महासचिव दीपक चौहान, जिला महासचिव संजय पुंढीर, सपाक्स के संस्थापक सदस्य डा. केएस तोमर, सचिव राजीव खरे, इंजीनियर अजय कुमार जैन, पाटीदार समाज के अध्यक्ष महेन्द्र पाटीदार आदि मौजूद थे। 

बैठक में निर्णय लिया गया कि 12 जून को दशहरा मैदान में आयोजित इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सपाक्स के साथ अधिक से अधिक संख्या में समाज के लोग भी पहुंचे। बैठक में एक संकल्प भी पारित किया गया कि सपाक्स के इस लड़ाई में समाज के लोग बराबरी से कंघा से कंधा मिलाकर संघर्ष करेंगे। जिससे प्रदेश सरकार को यह आभास हो सके कि प्रदेश के माई के लाल अब एक हो चुके है। 

यहां यह बताना जरूरी है कि हाईकोर्ट ने पदोन्नति में आरक्षण को खारिज कर दिया था जिसके विरोध में राज्य सरकार सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। केस लड़ने के लिए मंहगे से मंहगे वकील भी तैनात कर रखी है। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री कई बार यह भी कह चुके हैं कि मेरे रहते हुए कोई माई का लाल आरक्षण समाप्त नहीं कर सकता। 
शोएब सिद्दीकी
प्रवक्ता, सपाक्स
9977445999

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week